--Advertisement--

इटारसी / लापता छात्र की चौथे दिन नहर में मिली लाश, परिजनों ने कपड़े से की शिनाख्त



crime
X
crime

Dainik Bhaskar

Dec 08, 2018, 12:19 PM IST

इटारसी। तवानगर थाना क्षेत्र के बेलावाड़ा कैंप से 2 दिसंबर को लापता हुए बालक की लाश चाैथे दिन सिवनी-मालवा के भडग-चिखली गांव के पास नहर में मिली। सिवनी-मालवा पुलिस की सूचना पर तवानगर थाना प्रभारी आरवी सिंह परिहार मृतक बालक के परिजन को लेकर मौके पर पहुंचे। परिजन ने मृत बालक की चेहरे, अंडरवियर आैर हाथ के कड़े से शिनाख्त की।

 

शरीर पर नहर में जगह-जगह टकराने के निशान थे व तीन-चार दिन तक पानी में रहने से खराब हो गई। पुलिस ने मर्ग कायम कर पोस्टमार्टम कराया। शव का अंतिम संस्कार भी सिवनी-मालवा में ही कराया। शुक्रवार को सिवनी-मालवा से डायरी तवानगर थाने आई। मृतक अरुण पिता शनिराम कुमरे (15) निवासी बेलावाड़ा कैंप है। जो अपनी नानी सुशीला के घर रह रहा था। मृतक कक्षा 8वीं का छात्र है। उसके माता-पिता पांडरी गांव में रहते हैं। 2 दिसंबर से छात्र लापता था। दो दिन तक तलाशने के बाद भी उसका कुछ पता नहीं चला तो 4 दिसंबर को उसके पिता ने तवानगर थाने में आकर शिकायत की। 5 दिसंबर की सुबह नहर में बालक का शव मिला। जो बेलावाड़ा से गुम हुए बालक अरुण का शव था। परिजन ने शिनाख्त की। जिसके बाद जांच शुरू हुई। 

 

नहाते समय बहा बालक, डर के कारण छोटे बच्चों ने छिपाई बात : तवानगर थाना प्रभारी आरवी सिंह परिहार ने बताया 2 दिसंबर को मृतक बालक अरुण बेलावाड़ा कैंप के पास नहर किनारे नहा रहा था। वो तैरना जानता था। उसके साथ में गांव के चार-पांच (8-10 साल के) बच्चें भी शामिल थे। जिन्होंने उसके डूबने की बात छिपाकर रखी। किसी से भी शेयर नहीं की। 5 दिसंबर को शव मिलने के बाद जांच की तो बच्चों ने कहा कि हमारे साथ में वो नहा रहा था। डूबने की बात से सभी डर गए थे। इसलिए किसी को कुछ नहीं बताया। 

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..