पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बाढ़ के उच्च निशान से 300 मीटर तक है नर्मदा की प्रापर्टी : हाईकोर्ट

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • दायरे में आने वाले मंदिरों और परिवारों को प्रशासन को विस्थापित करना होगा 

होशंगाबाद। जबलपुर हाईकोर्ट ने नर्मदा किनारे हाई फ्लड मार्क (बाढ़ के उच्च निशान) से 300 मीटर के दायरे में निर्माण को अवैध बताया है। हाईकोर्ट ने इस संबंध में राज्य शासन को दो सप्ताह में नर्मदा किनारे के हाई फ्लड मार्क से 300 मीटर के दायरे में निर्मित धर्मस्थलों और निजी भवनों की सूची तैयार करने के निर्देश जारी किए हैं। आदेश का पालन कने के लिए प्रशासन को बड़ा विस्थापन करना होगा। होशंगाबाद शहर इससे सबसे अधिक प्रभावित होगा।
 
5 जुलाई को जबलपुर के नर्मदा तटीय क्षेत्र तिलवारा में दयोदय ट्रस्ट के मंदिर निर्माण के खिलाफ नर्मदा मिशन की याचिका पर सुनवाई हाईकोर्ट ने कहा नदी जब बाढ़ के समय अपने उच्चतम जलस्तर के फैलाव पर होती है, उस स्थान से तीन सौ मीटर का दायरा नदी की अपनी प्रापर्टी है। दयोदय ट्रस्ट के मंदिर निर्माण को नर्मदा के 300 मीटर दायरे में मान गलत ठहराया।

 

नर्मदा संरक्षण के लिए उचित निर्णय 
नर्मदा मिशन के संस्थापक संत भैय्याजी सरकार ने बताया कि जबलपुर हाईकोर्ट का निर्णय नर्मदा के संरक्षण के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। नर्मदा मिशन के सदस्य लंबे समय से नर्मदा के संरक्षण व संवर्धन के लिए प्रयासरत हैं। अप्रैल 2013 में नर्मदा मिशन की याचिका पर हाईकोर्ट ने नदियाें में पीओपी से निर्मित मूर्तियों के विसर्जन पर रोक लगाई थी। देश के 12 राज्यों में यह निर्देश न्यायालयों ने जारी किए।
 
यह है मामला 
हाईकोर्ट के वकील सौरभ तिवारी ने बताया कि तिलवारा में नर्मदा किनारे जैन समाज के दयोदय ट्रस्ट द्वारा मंदिर निर्माण कराया जा रहा है। नर्मदा मिशन की ओर से 20 मार्च 2019 को मंदिर निर्माण नर्मदा नदी के 300 मीटर दायरे से बाहर कराए जाने की मांग को लेकर याचिका दायर की गई थी। इसे लेकर हाईकोर्ट के निर्देश पर राज्य शासन ने रिपोर्ट तैयार की जिसमें दयोदय ट्रस्ट के मंदिर निर्माण को नर्मदा के 300 मीटर दायरे से बाहर बताया गया। जिसके बाद नर्मदा मिशन की ओर से अापत्ति दर्ज कराई गई। जिसमें राज्य शासन की रिपोर्ट पर दोबारा विचार हुआ। जिसके बाद हाईकोर्ट ने निर्णय दिया कि नर्मदा में बाढ़ के समय के उच्चतम जलस्तर से 300 मीटर के दायरे में जो भी निर्माण हुए हैं उन पर राज्य शासन ने अब तक क्या कार्रवाई की है और जो निर्माण हुए हैं उनकी सूची बुलाई है। 

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय निवेश जैसे किसी आर्थिक गतिविधि में व्यस्तता रहेगी। लंबे समय से चली आ रही किसी चिंता से भी राहत मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए बहुत ही फायदेमंद तथा सकून दायक रहेगा। ...

    और पढ़ें