Hindi News »Madhya Pradesh »Hoshangabad» नर्मदा में बढ़ा दो फीट पानी, बरगी बांध से छूट रहा हर दिन पानी

नर्मदा में बढ़ा दो फीट पानी, बरगी बांध से छूट रहा हर दिन पानी

भास्कर संवाददाता | होशंगाबाद अब नर्मदा में पानी कमी के कारण टूटी धार फिर से चालू हो गई है। भोपाल इंटकवेल को भी...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 01, 2018, 02:55 AM IST

भास्कर संवाददाता | होशंगाबाद

अब नर्मदा में पानी कमी के कारण टूटी धार फिर से चालू हो गई है। भोपाल इंटकवेल को भी पानी की कमी का सामना नहीं करना पड़ेगा। क्योंकि रोज बरगी बांध से 7 एमसीएम पानी छोड़ा जा रहा है। यहीं वजह है सोमवार तक घाट पर पानी 2 फीट बढ़ गया। पानी बढ़ने के साथ बुद्ध पूर्णिमा होने से अधिक संख्या में लोगों ने नर्मदा स्नान का आनंद लिया। पानी बढ़ने से शहर सहित बांद्राभान, पुलघाट व अन्य स्थानों पर नर्मदा में लोगों ने स्नान का आनंद उठाया। एनवीडीए अफसरों के अनुसार नर्मदा नदी को प्रवाहित रखने के लिए बारिश आने तक रोज बरगी बांध से पानी छोड़ा जाएगा। जरूरत के मुताबिक पीने लिए पानी मिलता रहे। फरवरी में गुजरात सरकार ने 800 एमसीएम पानी की मांग की थी।



जबकि 500 एमसीएम ही पानी देना था। नर्मदा नियंत्रण प्राधिकरण की बैठक में मप्र सरकार केे पानी देने के लिए सख्ती से मना करने और डेड वाटर का उपयोग करने की सहमति दी थी। अन्यथा पानी देने की स्थिति में प्रदेश में जलसंकट के हालात बन जाते।



पानी छोड़ने के लिए नगर निगम ने लिखा था पत्र

नर्मदा की सूखती धारा के कारण भोपाल नगर निगम को जलसंकट गहराने की चिंता सता रही थी। इसके चलते पिछले दिनों बरगी बांध से पानी छोड़ने के लिए उन्होंने प्रशासन और अधिकारियों को पत्र भेजा था। हालांकि शहर में अभी जलप्रदाय किया जा रहा है। पानी परिवहन की नौबत नहीं बनी।

इसलिए बरगी से छोड़ रहे पानी

जबलपुर स्थित बरगी बांध ऊंचाई पर स्थित है। यही वजह है बरगी बांध से पानी छोड़़ा जा रहा है। क्योंकि इंदिरा सागर या ओंकारेश्वर बांध से पानी छोड़ने पर बीच के क्षेत्रों में पानी की समस्या बनी रहती है। इसके चलते बरगी बांध से पानी छोड़ने का निर्णय लिया है। एनवीडीए अफसर ने बताया बारिश तक रोजाना पानी छोड़ा जाएगा। पीने के पानी व सिंचाई के लिए लोगों को परेशानी नहीं आने दी जाएगी। नर्मदा किनारे के शहरों व अन्य स्थानों के लोगों को पीने के लिए पानी मिलेगा।

गुजरात को पानी दे देते तो प्रदेश में गहराता जलसंकट

बिजली के लिए छोड़ रहे पानी

बरगी बांध से 21 अप्रैल से हर रोज 10 से 12 घंटे बिजली बनाने के लिए पानी छोड़ा जा रहा है। पहले केवल 4 घंटे ही पानी छोड़ा जा रहा था।

बरगी डेम का जलस्तर

बांध एफआरएल स्थिति

बरगी 422 418

इंदिरा सागर 262 250

ओंकारेश्वर 196 190

तवा 355 335

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hoshangabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×