• Hindi News
  • Mp
  • Hoshangabad
  • मेंटेनेंस बेकार, तार पर पेड़ गिरा तो 3 घंटे अंधेरे में आधा शहर, पिपरिया में ओले गिरे
--Advertisement--

मेंटेनेंस बेकार, तार पर पेड़ गिरा तो 3 घंटे अंधेरे में आधा शहर, पिपरिया में ओले गिरे

भास्कर संवाददाता| होशंगाबाद मौसम बदलने के कारण गिरे पेड़ से तीन घंटे तक शहर अंधेरे में रहा। पेड़ स्टेशन रोड़ पर...

Dainik Bhaskar

May 01, 2018, 02:55 AM IST
मेंटेनेंस बेकार, तार पर पेड़ गिरा तो 3 घंटे अंधेरे में आधा शहर, पिपरिया में ओले गिरे
भास्कर संवाददाता| होशंगाबाद

मौसम बदलने के कारण गिरे पेड़ से तीन घंटे तक शहर अंधेरे में रहा। पेड़ स्टेशन रोड़ पर बिजली के तार पर गिर गया था। बिजली कंपनी का मेंटनेंस इतना कमजोर था कि तीन घंटे तक उसे नहीं सुधारा जा सका। तार टूटने से आधे शहर के लोग परेशान रहे। हालांकि शाम 7.30 बजे बिजली आ गई। तार जोड़ने में इतना समय लगने पर बिजली कंपनी पर सवाल खड़े हो गए हैं।

इधर दिन में मौसम बदलने पिपरिया में बारिश के साथ ओले गिरे। होशंगाबाद में भी 0.6 मिमी बारिश दर्ज की गई है। मौसम बदलने से खुले में रखा गेहूं गीला हो गया। सोहागपुर, बाबई, इटारसी में भी यही स्थिति रही। मौसम विभाग ने अगले दो दिन बारिश की संभावना जताई है। बारिश होगी और तेज हवा भी चलेगी। सोमवार शाम को बदले मौसम के कारण लेागों को अंधेरे में रहना पड़ा। होश्ंगाबाद में हल्की बारिश भी दर्ज की गई।



मौसम विभाग के अनुसार .6 मिमी बारिश दर्ज की गई है। बारिश के दौरान हवा भी 10-12 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से चली।

बिजली गुल होने से शहर में अंधेरा हो गया। सतरस्ते से वाहनों की रोशनी में निकलते लोग।

तेज हवा के कारण तार टूटा, शहर में ब्लैक आउट

शाम को हवा तेज चलने से सतरास्ता के पास स्टेशन रोड पर नीम का पेड़ गिरने से तार टूट गए। शाम 4.45 बजे से बिजली गुल हो गई। सदर बाजार में देवामाई समाधि के पास 11 केवी लाइन पर पेड़ की शाखा टूट कर गिर गई। इससे यहां बिजली सप्लाई प्रभावित रही। इसी प्रकार सेठानीघाट पर झंडा चौक के पास पेड़ बार-बार तार से टकरा रहा है इससे बिजली गुल रही। चौथी घटना गांधी पार्क के पास 11 केवी लाइन पर पेड़ गिर गया। सबसे बड़ा फाल्ट 33 केवी लाइन पर कुलामढ़ी में फाल्ट आ गया था।



इससे बिजली गुल हो गई थी। शाखाएं गिरने से तार एक दूसरे से जुड़ गए थे।



इस कारण शहर में रात तक बिजली पूरी तरह बहाल नहीं हो पाई थी। सहायक यंत्री बिजली कंपनी दीपक मिश्रा ने बताया कि 5 जगहों पर घटना होने से शहर में बिजली सप्लाई प्रभावित रही। धीरे-धीरे उसे ठीक किया जा रहा है। इधर

खुले में रखा है एक लाख मीट्रिक टन गेहूं

जिले में इस समय गेहूं खरीदी चल रही है। ऐसे में गेहूं खुले में रखा है। करीब एक लाख मीट्रिक टन गेहूं खुले में है। बारिश से गेहूं भीग गया है। इसमें केंद्रों और मंडी में खरीदा गया गेहूं और किसानों द्वारा लाया जा रहा गेहूं शामिल है। नागरिक आपूर्ति निगम के प्रबंधक योगेश सिंह ने बताया करीब 70 हजार मीट्रिक टन गेहूं खुले में है। चूंकि किसानों की ट्राॅली लगी है, इसलिए वापस भी नहीं की जा सकतीं।

पिपरिया: ओले गिरने से किसान चिंतित

पिपरिया के शंखनी और धनाश्री में सोमवार दोपहर 3.30 बजे करीब 10 मिनट तक बारिश हुई। शंखनी में बारिश के दौरान 2 मिनट तक चना आकार के ओले गिरे हैं। शंखनी निवासी भोजपाल चौधरी ने बताया चने आकार के ओले गिरे, फसल पर असर आया है। बारिश लगभग 10 मिनट हुई थी। शंखनी खरीदी केंद्र पर खुले में रखा करीब 3 हजार क्विंटल गेहूं भीग गया। मौसम विभाग भोपाल के वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने बताया पंजाब से मप्र तक हवा के कम दबाव का चक्रवात बना है।



इससे बारिश होगी और ओले गिरेंगे। साथ ही तेज हवा भी चलेगी। यह मौसम दो से तीन दिन तक रहेगा। दिन में मौसम बदला रहेगा। मंगलवार को चक्रवात जबलपुर तरफ जाएगा, इससे होशंगाबाद में भी असर रहेगा।

X
मेंटेनेंस बेकार, तार पर पेड़ गिरा तो 3 घंटे अंधेरे में आधा शहर, पिपरिया में ओले गिरे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..