Hindi News »Madhya Pradesh »Hoshangabad» दक्षिण अमेरिकी हनी प्लांट स्टीविया की खेती कर लाभ कमा रहे किसान

दक्षिण अमेरिकी हनी प्लांट स्टीविया की खेती कर लाभ कमा रहे किसान

अब कई गांव के कई किसानों ने भी इस खेती की शुरुआत कर दी है विनय यादव पिछले चार साल से आर्गेनिक खेती कर रहे हैं ...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 01, 2018, 02:55 AM IST

अब कई गांव के कई किसानों ने भी इस खेती की शुरुआत कर दी है

विनय यादव पिछले चार साल से आर्गेनिक खेती कर रहे हैं

भास्कर संवाददाता| होशंगाबाद

दक्षिण अमेरिका में पाया जाने वाला हनी प्लांट स्टीविया की खेती कर बुदनी, नसरुल्लागंज आैर होशंगाबाद अंचल के किसान मोटा मुनाफा कमा रहे हैं। पहले यह खेती एक जागरूक किसान ने की थी, लेकिन इसके बाद अब कई गांव के कई किसानों ने भी इस खेती की शुरुआत कर दी है।

ग्राम देवगांव के किसान विनय यादव पिछले चार साल से आर्गेनिक खेती कर रहे हैं। इनकी देखादेखी कई किसानों ने आर्गेनिक खेती शुरू कर दी। यह अपनी फसल खेती-बाड़ी डॉट कॉम के माध्यम से भोपाल व अन्य बड़े महानगरों में भेजते हैं। इसी बीच इन्हें जानकारी लगी कि स्टीविया की खेती कर अधिक से अधिक मुनाफा कमाया जा सकता है। इंटरनेट व अन्य किसानों के माध्यम से इन्होंने जानकारी जुटाई।

उन्होंने एक किसान से संपर्क कर स्टीविया की खेती के गुर सीखे। इसके बाद उन्होंने भी स्टीविया की खेती करना शुरू कर दी। उनका कहना है मार्केट में स्टीविया की डिमांड है, इसलिए मुनाफा भी अधिक है। इसलिए स्टीविया की खेती शुरू की है।

तीन महीने में पक जाती है फसल

विनय यादव ने बताया स्टीविया का पौधा एक बार लगाने के बाद पांच तक फसल ली जा सकती है। हर तीन महीने में फसल तैयार हो जाती है। एक बीघा स्टीविया से हर साल एक से डेढ़ लाख रुपए तक का मुनाफा कमाया जा सकता है। स्टीविया का भाव 16 हजार रुपए प्रति क्विंटल चल रहा है।

डायबिटीज के रोगियों के लिए फायदेमंद है स्टीविया

स्टीविया एक आयुर्वेदिक औषधि है। पौधे की ताजी पत्तियां गन्ने से प्राप्त होने वाले सुक्रोज की तुलना में 25-30 गुना तक अधिक मीठी होती हैं। जबकि इससे निकलने वाला एक्ट्रेस शक्कर से लगभग ३०० गुना ज्यादा मीठा होता है। इसमें कैलोरी शून्य होती है। जिसकी वजह से मधुमेह के रोगी भी चीनी या कृत्रिम रासायनिक मिठास के विकल्प के रूप में इसका प्रयोग कर सकते हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hoshangabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×