पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वेतन सहित अन्य मांगों को लेकर नाराज शिक्षकों ने दिया ज्ञापन

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

विगत दो माह से वेतन ना मिलने के साथ ही अन्य समस्याओं का समाधान ना होने से शिक्षकों में नाराजगी देखी जा रही है। शनिवार को शिक्षकों ने कलेक्टर के नाम ज्ञापन साैंपा। इसमें वेतन भुगतान सहित अन्य समस्याओं का उल्लेख करते हुए समाधान किए जाने की मांग की है।

मप्र राज्य कर्मचारी संघ, मप्र शिक्षक संघ और तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ ने सयुंक्त रूप कलेक्टर के नाम ज्ञापन तहसीलदार राजेश बोरासी को सौंपकर अविलंब जनवरी एवं फरवरी का वेतन दिलाए जाने की मांग की है। राज्य कर्मचारी संघ के वीरेंद्र बहादुर सिंह ने बताया कि सभी संवर्गो के शिक्षकों का वेतन हो गया किंतु सहायक शिक्षक वेतन से वंचित है। इसके चलते शिक्षकों को अनेक आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

अन्य मांगों में विकासखंड शिक्षा अधिकारी के पद पर स्थायी अधिकारी की नियुक्ति, तृतीय क्रमोन्नति एरियर एवं सातवें वेतन की द्वितीय किस्त जो मई 2019 से लंबित है को भी शीघ्र दी जाए। शिक्षकों को प्रतिमाह वेतन पर्ची दी जाए जिससे वह आवश्यक होने पर लोन के लिए बैंक आदि में प्रस्तुत कर सके। ज्ञापन देने वालो में कोमल सिंह रघुवंशी, बसंत भार्गव, पीएन दुबे, केएन जायसवाल, पीसी राय, प्रभुदयाल शुक्ला, बीएस बरारे, राजकुमार बाथरे, राकेश सोनी सहित अनेक शिक्षक साथी उपस्थित रहे।

पिपरिया। तहसीलदार राजेश बोरासी को ज्ञापन सौंपते शिक्षक।
खबरें और भी हैं...