हाेशंगाबाद से लेकर बांद्राभान राेड किनारे लगे अवैध रेत के स्टाॅक

Hoshangabad News - हाेशंगाबाद। बान्द्राभान से रायपुर के बीच तवा किनारे से इस तरह ट्रैक्टर ट्राॅलियों से रेत चोरी कर सड़क किनारे ढेर...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 07:40 AM IST
Hoshangabad News - mp news invalid sand stack on the edge from heshangabad to bandra bhawan rade
हाेशंगाबाद। बान्द्राभान से रायपुर के बीच तवा किनारे से इस तरह ट्रैक्टर ट्राॅलियों से रेत चोरी कर सड़क किनारे ढेर लगाए गए।

भास्कर संवाददाता | हाेशंगाबाद

तवा नदी के किनारे बांद्राभान गांव से लेकर हाेशंगाबाद शहर तक जगह-जगह रेत के स्टाक लगे हैं। लाेग सुबह उठकर रेत जमा करने में जुट जाते हैं। बांद्राभान रोड पर गांव के आसपास कई किमी तक रेत के सैकड़ों अवैध स्टॉक हैं। अब ट्रैक्टर-ट्राॅली से रेत चोरी हाे रही है। सांगाखेड़ा पुल के नीचे भारी मात्रा में तवा से रेत निकाली जा रही है। होशंगाबाद से बांद्राभान के रास्ते से भास्कर टीम सांगाखेड़ा गांव तक पहुंची। सड़क के दोनों तरफ सिर्फ रेत के टीले नजर आए। स्कूल, आंगनबाड़ी, निजी भवन, खेत, खलिहान से लेकर सूनी जगहों पर रेत के भंडार मिले। स्कूल के सामने स्टॉक है दिन भर डंपरों का शोर पढ़ाई पर बाधा पैदा करता है। यहां के रास्ते रेत खदान से निकलने वाले डंपरों और ट्राॅलियों ने खराब कर रखा है। रसूखदार रेत चोरी में लिप्त होने से लोगों की कोई सुनवाई नहीं हो रही। ग्रामीण पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों के रेत चोरों से मिले होने की बात कह रहे हैं। इस संबंध में खनिज अधिकारी महेन्द्र पटेल ने बताया कि लगातार कार्रवाई कर रहे हंै। रोज ही वाहन पकडे जा रहे है। आगे भी कार्रवाई होगी।

एनजीटी की राेक के बाद बढ़ी चाेरी-

स्थानीय स्तर पर रेत निकालने और परिवहन के काम में अब कई बाहरी लोग शामिल हो गए हैं। इसके चलते एनजीटी की राेक के बाद तवा नदी से चोरी की रेत उठा रहे हैं। बारिश में लोगों को महंगी रेत मिल रही है। इसके चलते लाेग सस्ती रेत चाेरी की खरीदने का काम करते हैं।

X
Hoshangabad News - mp news invalid sand stack on the edge from heshangabad to bandra bhawan rade
COMMENT