विज्ञापन

मिशनखेड़ा का डाइस कोड सुधरा, पहले सुधर जाता तो 14 बच्चे फेल नहीं होते : दुबे

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 03:10 AM IST

Hoshangabad News - इटारसी| मिशनखेडा हाई स्कूल का डाइस कोड सुधर गया है। 15 मार्च को सुधार कार्य हुआ। अब मिशन खेड़ा स्कूल शिक्षा पोर्टल पर...

Itarsi News - mp news modh kheda39s dice code rectified firstly if 14 children fail then fails dubey
  • comment
इटारसी| मिशनखेडा हाई स्कूल का डाइस कोड सुधर गया है। 15 मार्च को सुधार कार्य हुआ। अब मिशन खेड़ा स्कूल शिक्षा पोर्टल पर दिखने लगा है। शिक्षक कल्याण संगठन ने स्कूल के गलत डाइस कोड को सुधारने की मांग उठाई थी। संगठन के संयोजक राजकुमार दुबे ने बताया हमने संगठन के माध्यम से 16 जून 2018 से हाई स्कूल मिशन खेड़ा के गलत डाइस कोड को सुधरवाने के लिए अभियान चलाया था, इसके लिए कलेक्टर कार्यालय, जिला शिक्षा अधिकारी, जिला शिक्षा केंद्र , विधायक कार्यालय में ज्ञापन के माध्यम से समस्या के समाधान की मांग की थी। डाइस कोड के अभाव में अतिथि शिक्षकों की नियुक्तियां नहीं हो पाने के कारण हाई स्कूल की कक्षा 9वीं के 25 बच्चों के सामने अध्यन करने की समस्या बनी, शिक्षक कल्याण संगठन ने जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय से दो अन्य स्कूलों में पढ़ाई करवाने और वार्षिक परीक्षा देने की व्यवस्था की। हालांकि इसमें 11 बच्चे ही सफल हो पाए 3 छात्राएं और 11 छात्र परीक्षा में फेल हो गए। उन्होंने कहा आयुक्त कार्यालय भोपाल से इसी डाईस कोड को माह जून 2018 में सुधार दिया जाता तो, ये 14 बच्चे फेल नही होते। डाईस कोड सुधारो अभियान में शिक्षक कल्याण संगठन के सदस्य सुरेश चिमानिया, रामचरण नामदेव, सत्येन्द्र तिवारी, राजेंद्र दुबे, सुषमा शर्मा, उषा कश्यप, अशोक मालवीय, अखिलेश दुबे, रमेश कीर, राम आशीष पांडे, मनोहर गुजरे, सुनील दुबे शामिल थे।

X
Itarsi News - mp news modh kheda39s dice code rectified firstly if 14 children fail then fails dubey
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन