प्रदर्शन करने छिंदवाड़ा गए अतिथि विद्वानों को पुलिस ने खदेड़ा, पिपरिया लाकर छोड़ा

Hoshangabad News - भास्कर संवा. | पिपरिया/ होशंगाबाद मुख्यमंत्री कमलनाथ के गृहनगर छिंदवाड़ा में प्रदर्शन करने पहुंचे अतिथि...

Dec 04, 2019, 08:47 AM IST
Hoshangabad News - mp news police sent guest scholars to chhindwara to protest
भास्कर संवा. | पिपरिया/ होशंगाबाद

मुख्यमंत्री कमलनाथ के गृहनगर छिंदवाड़ा में प्रदर्शन करने पहुंचे अतिथि विद्वानाें काे पुलिस ने खदेड़ा। सेवा समाप्ति के विरोध में प्रदेश भर के अितथि विद्वान रैली निकाल रहे थे। पुलिस ने उन्हें कलेक्टर से मिलवाने का झांसा देकर बस और अन्य वाहनाें में जबरदस्ती बैठाया और पिपरिया छाेड़ गए। अतिथि विद्वानाें ने मंगलवार शाम पिपरिया में डेरा डाला। अतिथि विद्वान संघ के प्रदेशध्यक्ष डॉ. सुरजीत भदौरिया ने बताया कांग्रेस सरकार ने चुनाव से पहले नियमित करने का अाश्वासन दिया था अब सेवा समाप्त की जा रही है। छिंदवाड़ा में प्रदर्शन करने गए थे। अतिथि विद्वानाें काे पुलिस ने लात-घूसे मारे। रैली नहीं निकालने दी। बुधवार काे 2 हजार से अधिक अतिथि विद्वान पिपरिया से भाेपाल पैदल विराेध यात्रा निकालेंगे।

पिपरिया में डेरा, आज भोपाल के लिए निकालेंगे विरोध यात्रा

वंदे-मातरम और भारत माता के जयकारे लगाते हुए अतिथि विद्वान उतरे।

रात 9 बजे नपा के पार्क में बनाई रणनीति : पिपरिया में प्रदेश भर के अतिथि विद्वान मंगलवार रात से जुटने शुरू हाे गए। रात 9 बजे अतिथि विद्वानाें ने नपा पार्क में बैठकर भाेपाल की विराेध यात्रा की रणनीति बनाई। रात में विभिन्न यात्री प्रतीक्षालय में रुके। स्थानीय अतिथि विद्वान मोनू मेहता, सरोज साहू, शैलेश मालवीय सहित अन्य ने सहयाेग किया।

जमीन पर बैठे अतिथि शिक्षक

सम्मान के साथ छोड़ा, आरोप गलत: छिंदवाड़ा एसपी मनाेज राय ने बताया स्थानीय शिक्षक बातचीत के बाद प्रदर्शन नहीं करने काे तैयार हाे गए थे लेकिन बाहर के लाेग सीएम के गृहनगर में ही धरना देना चाह रहे थे। एेसा करने से राेका गया है। उन्हें पूरे सम्मान के साथ पिपरिया स्टेशन छाेड़ा गया है ताकि वे अपने-अपने घर चले जाएं। उनके अाराेप गलत हैं।

मटकुली में बस खाली कराने की काेशिश

महिला अतिथि विद्वानों से भरी बस को पिपरिया से 25 किमी दूर मटकुली में खाली कराने का प्रयास किया गया। कॉलेजों में अतिथि विद्वान देवराज सिंह, मंसूर अली, वंदना मालवीय (भाेपाल), आशीष पांडे, गिरिवर सिंह, उज्जैन के मनीष प्रजापति, दशरथ प्रसाद शुक्ला ने बताया अतिथि विद्वान छिंदवाड़ा में मुख्यमंत्री निवास पर प्रदर्शन करने के लिए एकत्रित हुए थे। रैली निकाल रहे थे तो पुलिस ने हमें रोका। कुछ साथी जब नहीं माने तो लात-घूसों से पीटा।

Hoshangabad News - mp news police sent guest scholars to chhindwara to protest
X
Hoshangabad News - mp news police sent guest scholars to chhindwara to protest
Hoshangabad News - mp news police sent guest scholars to chhindwara to protest
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना