• Hindi News
  • Mp
  • Hoshangabad
  • Hoshangabad News mp news sand traders say even after royalty action against dumpers 20 threats to strike
--Advertisement--

रेत कारोबारी बोले- रॉयल्टी होने के बाद भी डंपरों के खिलाफ हो रही कार्रवाई, 20 से हड़ताल की धमकी

Dainik Bhaskar

Jan 13, 2019, 03:17 AM IST

Hoshangabad News - शहर में रोजाना 400 से ज्यादा रेत कारोबारी डंपरों में रेत भरकर बेचने के लिए लाते हैं। लेकिन होशंगाबाद से भोपाल आते...

Hoshangabad News - mp news sand traders say even after royalty action against dumpers 20 threats to strike
शहर में रोजाना 400 से ज्यादा रेत कारोबारी डंपरों में रेत भरकर बेचने के लिए लाते हैं। लेकिन होशंगाबाद से भोपाल आते समय सीहोर, ओबेदुल्लागंज के पास खनिज विभाग और पुलिस के अफसरों द्वारा रोजाना डंपर संचालकों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। वजह यह बताई जा रही है कि गाड़ियों में तय लिमिट से ज्यादा रेत डंपर संचालक ले जा रहे हैं। मप्र सैंड एसोसिएशन के सदस्यों ने खनिज विभाग के प्रमुख सचिव नीरज मंडलोई से बेवजह कार्रवाई को लेकर आपत्ति दर्ज कराई हैं। एसोसिएशन ने कार्रवाई बंद नहीं करने पर 20 जनवरी से हड़ताल पर जाने की धमकी दी है। एसोसिएशन के मीडिया प्रभारी विजय सनोडिया ने बताया कि पिछले सात दिनों में 20 से ज्यादा डंपरों को रोका। जो राॅयल्टी खदान द्वारा दी जा रही है, वो दिखाने के बाद भी डंपरों को बंद किया जा रहा है। मनमानी जुर्माना लगाने की धमकी दी जा रही है।

अवैध डंपरों पर कार्रवाई हो पटिए हटाए जाएं

एसोसिएशन के सचिव विश्वबंधु रावत ने बताया कि एसोसिएशन के सदस्य पहले भी अवैध डंपरों के खिलाफ खनिज विभाग को अभियान चलाने के लिए कह चुके हैं। जो डंपर संचालक बिना रॉयल्टी के रेत भोपाल में ला रहे हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई होना चाहिए। उनके डंपरों में लगे पटियों को हटाया जाना चाहिए। ताकि आम लोगों को कम दाम में रेत मिल सके। हड़ताल होने से रेत महंगी हो जाएगी। इसका खामियाजा आम लोगों को उठाना पड़ेगा।

200 से ज्यादा डंपर तय लिमिट से ज्यादा रेत लाते हैं रेत

एसोसिएशन का ही दावा है कि शहर में 200 से ज्यादा डंपर संचालक ऐसे हैं। जो तय लिमिट 500 फीट से ज्यादा रेत यानी 850 से 900 फीट तक रेत लेकर आते हैं।

X
Hoshangabad News - mp news sand traders say even after royalty action against dumpers 20 threats to strike
Astrology

Recommended

Click to listen..