एक माह बाद आज खुलेंगे माेरन नदी पर बनने वाले बांध के टेंडर

Hoshangabad News - भास्कर संवाददाता | हाेशंगाबाद माेरन नदी पर बनने वाले बांध के लिए साेमवार काे टेंडर खुलेंगे। टेंडर नर्मदा विकास...

Nov 11, 2019, 08:21 AM IST
भास्कर संवाददाता | हाेशंगाबाद

माेरन नदी पर बनने वाले बांध के लिए साेमवार काे टेंडर खुलेंगे। टेंडर नर्मदा विकास प्राधिकरण के कार्यालय में खुलेंगे। पहले यह टेंडर पिछले माह खुलना था लेकिन टेंडर डालने वाली कंपनियाें ने पहले बांध बनाने की जगह काे देखने के लिए समय मांगा था। यह समय माैके पर विजिट करने के लिए मांगा था। अब उनका विजिट पूरा हाे गया है। इस कारण अब वे टेंडर डाल चुके हैं। इन्हें साेमवार काे खाेला जाएगा। टेंडर शाम तक खुलेंगे। माेरन नदी पर बांध बनने के बाद हाेशंगाबाद अाैर हरदा जिले के हजाराें किसानाें काे सिंचाई के लिए पानी मिलेगा। करीब 52 हजार हेक्टेयर जमीन पर सिंचाई बढ़ेगी। साथ ही गर्मी में मवेशियाें काे पीने का पानी की सुविधा हाेगी अाैर लाेगाें काे भी फायदा हाेगा। नर्मदा विकास प्राधिकरण के हाेशंगाबाद प्रभारी रतनलाल प्रजापति ने बताया टेंडर पिछले माह 18 अक्टूबर काे खुलना था, लेकिन कंपनियाें के प्रतिनिधियाें ने पहले विजिट करने का समय मांगा था, इसलिए उन्हें 11 नवंबर तक समय दिया गया था। अब 11 काे यह टेंडर खुलेंगे। टेंंडर खुलने के बाद वर्कऑर्डर हाेगा। कंपनी से इसी माह से काम शुरू करने के लिए अनुबंध किया जाएगा। काम 5 साल में पूरा हाेगा।

देश विदेश की अन्य खबरों के लिए देखें: dainik bhaskar.com



प्रकाश पर्व कल
किताब में जिक्र- होशंगाबाद में तीन कोशिशों में भी कमरकस्सा नहीं बांध सके हाेशंगशाह को गुरुनानकजी ने बना लिया था शिष्य

भास्कर संवाददाता | हाेशंगाबाद

सिखाें के प्रथम गुरु गुरुनानक देव अपनी दूसरी उदासी यानी यात्रा में 1506- 1513 में गुरुनानक देव पंजाब से पुष्कर, अजमेर, उज्जैन, बेटमा, इंदाैर भाेपाल हाेते हुए हाेशंगाबाद अाए। हाेशंगाबाद में तत्कालीन राजा हाेशंगशाह गाैरी ने गुरुनानक देव के सामने फकीर, संत अाैर मनुष्य में अंतर जानने की इच्छा प्रकट की। तब गुरुनानक देव ने हाेशंगशाह से उनकी कमर पर कमरकस्सा बांधने काे कहा। तीन बार प्रयास करके भी हाेशंगशाह गाैरी नानक देव काे कमरकस्सा नहीं बांध सका अाैर उनके अागे नतमस्तक हाे गया। तब नानक देव ने हाेशंगशाह काे अपना शिष्य स्वीकार किया था। यह बात जेबी सूरज प्रकाशन के लेखक श्री गुरबख्स सिंह शहीद की पुस्तक गुरु सागर रतन प्रकाश के 89 वें पेज पर लिखी है। मान्यता है कि गुरु की मेहर के कारण ही 1973 की बाढ़ में गुरु के अनुयायियाें द्वारा लिखा ग्रंथ साहब भी यहां अा पहुंचा। उल्लेख है कि ग्रंथ साेने, चांदी अाैर काजल की स्याही से लिखा गया है। इधर, प्रकाश पर्व पर 11 नवंबर को अखंड पाठ साहब, सत्संग होगा।

कोड़ा पड़रई के जंगल में पेड़ का अंधविश्वास और अफवाह फैलाने वाले की तलाश में जुटी पुलिस

महुआ के पेड़ तक अब नहीं जा सकेंगे लोग, प्रशासन ने लगाई रोक, पिपरिया-बनखेड़ी के बीच लगा जाम

भास्कर संवाददाता | पिपरिया

पिपरिया-बनखेड़ी के बीच कोड़ा पड़रई के जंगल में महुआ पेड़ के पास जाने पर प्रशासन ने रविवार काे राेक लगा दी। धारा-144 के तहत राेक लगाई है। रविवार काे पिपरिया और बनखेड़ी के बीच लंबा जाम लगा रहा। प्रशासन काे काफी मशक्कत करनी पड़ी। शाम को एडीएम केडी त्रिपाठी, तहसीलदार राजेश बोरासी ने नया गांव पहुंचकर जायजा लिया। एसडीएम पिपरिया मदन सिंह रघुवंशी ने बताया महुआ पेड़ काे देखने जा रहे लाेगाें से यातायात जाम हाे रहा है। कलेक्टर के निर्देश पर लोगों को अब महुआ पेड़ तक नहीं जाने दिया जाएगा। रराईखेड़ी रोड पर नायब तहसीलदार मृगेंद्र सिसोदिया, मंगलवारा थाने से एसआई मालवीय ने मोर्चा संभाला। लोगों से पुलिस की कई बार बहस भी हुई लेकिन पुलिस ने सख्ती से उन्हें आगे जाने से इंकार कर दिया।

पिपरिया। राईखेड़ी रोड, अंडर ब्रिज रोड पर लगा जाम।

धराेहर है गुरु की यात्रा में अनुयायियाें द्वारा लिखा हस्त लिखित ग्रंथ

श्रीगुरुग्रंथ साहिब गुरुद्वारे के ग्रंथी हरभजन सिंह ने बताया नानकदेव की यात्रा में उनके साथ रबाव वादक भाई मरदाना भी थे। जाे वीणा पर संगीत देते थे अाैर नानक अपनी वाणी यानी सदवचन यात्रा में मिलने वाले लाेगाें काे सुनाते थे। इन वणियाें काे नानक के अनुयायियाें ने एक ग्रंथ में लिखा। इस ग्रंथ साहब में सिखाें के सातवें गुरु गुरु हरराय साहब तक का विवरण मिलता है। ग्रंथ साहब में 1430 पेज हैं। अागे के पन्नाें पर इनडेक्स है अाैर पीछे के पन्नाें में सात गुरुअाें के नाम अाैर स्याही बनाकर उसे माेरपंख से लिखने की विधि लिखी है।

श्रीगुरुग्रंथ साहिब गुरुद्वारे में रखा गुरुग्रंथ साहिब।

पुलिस ने 11 वाहनों के काटे चालान

बनखेड़ी|
बनखेड़ी पुलिस ने महुअा के पेड़ के पास लाेगाें काे ले जाने वाले वाहनाें पर चालानी कार्रवाई की। वाहन चालक अाेवरलाेडिंग कर लाेगाें की जान खतरे में डाल रहे हैं। रविवार काे शंकर चौराहे पर राजस्व एवं पुलिस दल ने चैकिंग की। एसआई संदीप यादव ने बताया 11 वाहनों के चालान काटे। वाहन चालकों से 5500 रुपए जुर्माना वसूला। थाना प्रभारी शंकरलाल झारिया ने बताया अफवाह फैलाने वालों की तलाश की जा रही है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना