बिना हेडलाइट के चल रही रेत से भरी ट्रैक्टर-ट्राॅलियां, हादसे का रहता डर

Hoshangabad News - शहर में रेत का अवैध कारोबार करने वाली ट्रैक्टर ट्रॉलियों में हेडलाइट ना होने से दुर्घटना की आशंका बढ़ गई है। अल...

Jan 16, 2020, 08:55 AM IST
Pipariya News - mp news tractor trails filled with sand without headlight fear of accident
शहर में रेत का अवैध कारोबार करने वाली ट्रैक्टर ट्रॉलियों में हेडलाइट ना होने से दुर्घटना की आशंका बढ़ गई है। अल सुबह घूमने के लिए जाने वाले और सड़क पर सफाई का काम करने वाले जन सेवकों में इन ट्रैक्टर ट्रॉलियों को लेकर चिंता देखी जा रही है।

उन्होंने मांग की है कि सभी ट्रैक्टर ट्रॉलियों में हेड लाइट लगवाई जाए जिससे कि दुर्घटना से बचा जा सके। नगर पालिका में कार्यरत जनसेवक रवि कुमार ने बताया कि हमारे सभी साथी सूरज निकलने के काफी पहले सफाई कार्य के लिए शहर के विभिन्न हिस्सों में निकल जाते हैं। सांडिया रोड और पचमढ़ी रोड क्षेत्र में रेत ला रही ट्रैक्टर ट्रॉलियां बहुत तेज रफ्तार से आती हैं। हमारे जन सेवक रोड के किनारे सफाई कर रहे होते हैं।

ट्रैक्टर ट्रॉली के आने का पता उन्हें आवाज से ही लग पाता है, क्योंकि उनमें लाइट नहीं होने के कारण कोई संकेत नहीं मिलता। इसके चलते दुर्घटना की आशंका बनी रहती है। वहीं इन ट्रैक्टर ट्रॉलियों के कारण मॉर्निंग वॉक पर जाने वाले लोगों ने रास्ता बदल दिया है।

रात 3 बजे से होता है अवैध रेत का काराेबार

शहर में रेत चोरी का कारोबार करने वाले रात में 3 बजे से सक्रिय हो जाते हैं। यह ट्रैक्टर ट्रॉलियों आसपास की नदियों से रेत लाकर पिपरिया शहर में चल रहे निर्माण कार्य स्थलों पर डाल देती हैं। रेत का यह कारोबार सुबह 7 बजे तक चलता है। मालूम हो स्थानीय पुलिस ने ट्रैक्टर ट्रॉलियों की तरफ देखना बंद कर दिया है और प्रशासनिक अधिकारी दूसरे कामों में व्यस्त रहते हैं, जिसके चलते पिपरिया में रेत का अवैध कारोबार जमकर चल रहा है।

पिपरिया|कोहरे के कारण लोगों को ट्राॅलियां आते हुए नजर नहीं आती।

X
Pipariya News - mp news tractor trails filled with sand without headlight fear of accident
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना