विज्ञापन

बिना ग्लब्स पहने खाना बना रहे थे वेंडर, कीड़े लगे आलू फिकवाए

Dainik Bhaskar

Mar 17, 2019, 03:06 AM IST

Hoshangabad News - इटारसी। पेंट्रीकार का निरीक्षण करते अिधकारी। भास्कर संवाददाता | इटारसी दरभंगा से एलटीटी जा रही पवन...

Itarsi News - mp news vendors were making food without wearing glubbs worms worn by insects
  • comment
इटारसी। पेंट्रीकार का निरीक्षण करते अिधकारी।

भास्कर संवाददाता | इटारसी

दरभंगा से एलटीटी जा रही पवन एक्सप्रेस के पेंट्रीकार में खाने-पीने के सामान का बिल नहीं दिया जाता है और खानपान रेट लिस्ट भी छिपाकर रखी है। खानपान सामग्री भी विदाउट ग्लब्स बनाई जाती है। सफाई भी ठीक ही रहती है। इसका खुलासा शनिवार को इटारसी जंक्शन पर हुआ। जब स्टेशन प्रबंधक एसके जैन, डीसीआई बीएल मीणा, स्वास्थ्य निरीक्षक एसके साहू अचानक पेंट्रीकार का निरीक्षण करने पहुंचे। एसी पेंट्रीकार के अंदर घुसते ही रेलवे अधिकारियों की टीम ने जांच शुरू कर दी। पेंट्रीकार में विदाउट ग्लब्स/ आईकार्ड काम कर रहे वेंडर हड़बड़ा गए। पेंट्रीकार में फैली अव्यवस्था को वेंडर ठीक करने लगे। पेंट्रीकार में कीड़े लगे आलू मिलने व बिना ग्लब्स के सब्जी काटते वेंडर को देख स्टेशन प्रबंधक भड़क गए और कहा ऐसे सड़े हुए आलू का इस्तेमाल करते हो। इसे खाने से यात्रियों की तबीयत बिगड़ेगी। कहां है तुम्हारे मैनेजर, बुलाओ उन्हें। स्टेशन प्रबंधक ने मैनेजर से मनोज कुमार से पेंट्रीकार के अलग-अलग कमियों को लेकर फटकार लगाते हुए सुधार रखने की चेतावनी दी। करीब 10 मिनट रेलवे टीम ने निरीक्षण की। स्टेशन प्रबंधक जैन ने कहा निरीक्षण प्रतिवेदन बनाकर मंडल कार्यालय को भेजा जाएगा।



अन्य ट्रेन की पेंट्रीकार व स्टेशनों के स्टालों के भी खानपान सामग्री की जांच होती रहेंगी।

हाजिरी रजिस्टर में लगाई अनुपस्थिति

पेंट्रीकार में रखे रजिस्टर में 16 मार्च के काॅलम में हाजिरी नहीं लगी थी। जबकि प्रेजेंट में मैनेजर सहित 19 कर्मचारी है। कम कर्मचारी होने पर मैनेजर ने कहा 5 कर्मचारी हाजीपुर में उतर गए है। स्टेशन प्रबंधक ने रजिस्टर में उक्त काॅलम में सभी कर्मचारी की अनुपस्थिति लगा दिया।

बुक में लंबे समय से नहीं लिखी शिकायतें, यात्रियों ने ओवरचार्जिंग की शिकायत की

फोटो नंबर 52 इटारसी। यात्रियों से ओवरचार्जिग की शिकायत की।

शिकायत बुक भी केवल तीन-चार शिकायतें ही मिली। जो कई महीनें पुरानी थी। लंबे समय से शिकायत बुक खाली रहने से डीसीआई ने कहा मैनेजर से कहा यात्री शिकायतें नहीं करते या तुम लोग लिखते नहीं हो। जांच के दौरान ही टीसी एचएच त्रिपाठी और रेलकर्मचारी रामबाबू ने यात्रियों से वेंडरों से सामान खरीदने के रेट पूछे। यात्रियों ने कहा 15 रुपए की पानी की बोतल को वेंडर 20 रुपए में बेच रहे। रेलवे स्टाफ ने पेंट्रीकार के वेंडरों द्वारा की जा रही ओवरचार्जिंग की शिकायत लिखी। यात्रियों ने चाय भी 10 रुपए में बेचने की शिकायत की। हालांकि चाय की शिकायत नहीं लिखी।

पेंट्रीकार में यह भी मिली कमियां

-खानपान मैन्यू की रेट लिस्ट लपेटकर रखे मिली।

-वेंडर आईकार्ड नहीं टांके थे।

-बिल मशीन में रोल नहीं मिला। जिससे बंद थी।

-दो डस्टबिन नहीं रखे मिली।

- विदाउट ग्लब्स खानपान सामग्री बनाते मिले।

150 के लगभग ट्रेनों का है स्टापेज, एकमात्र ट्रेन के पेंट्रीकार का किया निरीक्षण

राप्तीसागर एक्सप्रेस में अंडा बिरयानी खाने से करीब 30 यात्रियों की फूड पॉइजनिंग होने के मामले के तीसरे दिन इटारसी में पवन एक्सप्रेस के पेंट्रीकार का निरीक्षण हुआ है। जबकि इटारसी रेलवे जंक्शन से 200 ट्रेनें प्रतिदिन गुजरती है। इसमें करीब 150 ट्रेनों का इटारसी में स्टापेज है। लेकिन दो दिन बाद एकमात्र ट्रेन के पेंट्रीकार की जांच करना। औपचारिक खानापूर्ति को दर्शाता है।

000

X
Itarsi News - mp news vendors were making food without wearing glubbs worms worn by insects
COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन