--Advertisement--

मुख्यमंत्री जन आशीर्वाद यात्रा का विरोध कर रहे कांग्रेसियों को पुलिस ने रोका; पुलिस से भिंड़त, पूर्व विधायक सहित सैकड़ों गिरफ्तार

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की जन आशीर्वाद यात्रा आज मुलताई में, सभी भी करेंगे 

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 12:41 PM IST

बैतूल. जिले के मुलताई में जन आशीर्वाद यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को ज्ञापन जाने से पहले ही पुलिस ने कांग्रेस के पूर्व विधायक सुखदेव पांसे सहित 150 कांग्रेसी कार्यकर्ताओं गिरफ्तार कर लिया। इससे नाराज कांग्रेसियों का पुलिस अफसरों से विवाद हो गया है। विवाद के बाद पुलिस ने सैकड़ों कांग्रेसियो को गिरफ्तार कर ले गए। मुख्यमंत्री विकास कार्यों के लोकार्पण और भूमिपूजन के लिए मंगलवार को मुलताई में हैं। मुख्यमंत्री मुलताई से भैंसदेही और फिर हेलीकॉप्टर से बैतूल पहुंचे। यहां पर एक सभा होगी, इसके बाद रथ यात्रा होगी।


तीन बसों से सभी कांग्रेस पदाधिकारियों को स्कूल में बनी अस्थाई जेल भेज दिया गया है। इधर पूर्व विधायक पांसे ने कहा है कि यह सब मुख्यमंत्री के कहने पर किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यह भाजपा के शासन में लोकतंत्र की हत्या हो रही है। प्रशासन से मुख्यमंत्री को जनता के साथ ज्ञापन देने का समय मांगा था। प्रशासन ने उन्हें पांच लोगों के साथ मुख्यमंत्री के मुलताई में सभा के बाद हेलीपेड पर ज्ञापन देने का कहा था, लेकिन गिरफ्तार कर लिया।

भीड़ के साथ ज्ञापन देने पहुंचे थे कांग्रेसी

इधर, पुलिस अधीक्षक डीआर तेनीवार ने बताया कि सोमवार को पूर्व विधायक सुखदेव पांसे से बात हुई थी उन्हें सुरक्षा की दृष्टि के मद्देनजर हेलीपेड पर सभा खत्म होने के बाद ज्ञापन देने का समय दिया गया था, परंतु वे नही माने और भीड़ के साथ ही ज्ञापन देने पर अड़े रहे। सुरक्षा के लिहाज से कार्रवाई की गई है। उधर मुलताई ब्लॉक की अध्यक्ष भी सभा स्थल पर जाने की कोशिश कर रही थीं उसे भी गिरफ्तार कर लिया गया।

गिरफ्तारी से नाराज कांग्रेसियों ने लगाए नारे

अपनी गिरफ्तारी से नाराज कांग्रेसी खफा हो गए। जैसे ही पुलिस ने उनसे बस में चढ़ने कहा, कांग्रेसी नारे लगाने लगे। इस बीची सभी की पुलिस से जमकर झूमाझटकी हुई। जन आंदोलन मंच से जुड़े अनिल सोनी ने बताया कि उनका मंच मुख्यमंत्री को मुलताई को जिला बनाने, ट्रेनों का स्टापेज और ताप्ती प्राधिकरण बोर्ड का गठन करने के लिए ज्ञापन देने वाले थे। जिसके चलते मुलताई पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक सुरक्षा के मद्देनजर जन आंदोलन मंच के लोगो को अभिरक्षा में लिया है।