बैतूल / सांप के काटने पर बच्चे को खटिया पर लेकर नदी पार कराई, बाढ़ आने पर 36 घंटे करना पड़ा इंतजार

बैतूल में बच्चे को सांप ने काट लिया, जिससे ग्रामीण खाट डालकर बच्चे को अस्पताल लेकर पहुंचे। बैतूल में बच्चे को सांप ने काट लिया, जिससे ग्रामीण खाट डालकर बच्चे को अस्पताल लेकर पहुंचे।
The snake bite caused the child to cross the river on a cot, waiting for 36 hours when the river was flooded.
X
बैतूल में बच्चे को सांप ने काट लिया, जिससे ग्रामीण खाट डालकर बच्चे को अस्पताल लेकर पहुंचे।बैतूल में बच्चे को सांप ने काट लिया, जिससे ग्रामीण खाट डालकर बच्चे को अस्पताल लेकर पहुंचे।
The snake bite caused the child to cross the river on a cot, waiting for 36 hours when the river was flooded.

  • बैतूल में बारिश आफत बन गई है, नदी और नाले उफान पर होने से लोगों को भारी परेशानी आई 

दैनिक भास्कर

Aug 12, 2019, 06:15 PM IST

बैतूल. भीमपुर ब्लॉक की ग्राम पंचायत उत्ती के खुज्जूढाना गांव घाेघरा नदी के पार स्थित है। यहां जाने के लिए काेई पुल नहीं है। इस कारण 12 साल के बच्चे काे सांप के काटने पर परिजनों काे रविवार दोपहर में उफनती घोघरा नदी में से खटिया (चारपाई) पर डालकर लाना पड़ा। 

 

जानकारी के मुताबिक, सुखलाल पिता सन्तू परते (12) को शुक्रवार सुबह सांप ने काट लिया। गांव से रास्ता नहीं हाेने अाैर घाेघरा नदी के तेज उफान पर होने के कारण बालक को इलाज के लिए 36 घंटे इंतजार करना पड़ा। परिजन गांव के भगत से झाड़-फूंक करवाते रहे। ग्रामीण सुंदर परते ने बताया शनिवार से ही घोघरा नदी में बाढ़ और पानी का तेज बहाव चल रहा है। इसलिए ग्रामीणों के सामने बाढ़ उतरने का इंतजार करने के अलावा कोई रास्ता नहीं था। 

 

रविवार को सुबह नदी में पानी कुछ कम हुआ तो परिजन अन्य ग्रामीणों की मदद से मरीज को खटिया में डाल इलाज के लिए नदी के पार ले गए। इस संबंध में कलेक्टर तेजस्वी एस. नायक से संपर्क की कोशिश करनी चाही, लेकिन लेकिन उनका फोन स्विच ऑफ था। 

 

गाेरखीढाना के बच्चे नदी पार कर जाते हैं स्कूल 

ग्राम पंचायत उत्ती के गोरखीढाना और खुज्जूढाना गांव तीन तरफ से नदियों से घिरे हुए हैं। यहां जाने के लिए काेई रास्ता नहीं है इसलिए बारिश में यही स्थिति बनती है। ग्रामीण लंबे समय से पुल की मांग कर रहे हैं। विधायक धरमूसिंह सिरसाम ने बताया कि यहां पुल निर्माण के लिए प्रधानमंत्री सड़क इकाई और पीडब्ल्यूडी को पत्र लिख चुके हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना