• Hindi News
  • Mp
  • Hoshangabad
  • The youth had set up 8 feet Ganesh, organic fertilizer distributed daily in Prasad, immersion of idol also in paddy fiel

होशंगाबाद / युवाओं ने बिठाए गोबर के 8 फीट के गणेश; प्रसाद में बांटी जैविक खाद, विसर्जन भी धान के खेत में



होशंगाबाद में गोबर के गणेश बनाकर उनका धान के खेत में विसर्जन किया। होशंगाबाद में गोबर के गणेश बनाकर उनका धान के खेत में विसर्जन किया।
The youth had set up 8 feet Ganesh, organic fertilizer distributed daily in Prasad, immersion of idol also in paddy fiel
X
होशंगाबाद में गोबर के गणेश बनाकर उनका धान के खेत में विसर्जन किया।होशंगाबाद में गोबर के गणेश बनाकर उनका धान के खेत में विसर्जन किया।
The youth had set up 8 feet Ganesh, organic fertilizer distributed daily in Prasad, immersion of idol also in paddy fiel

  • आस्था और पर्यावरण: नर्मदापुर युवा मंडल ने की परंपरा के साथ प्रकृति की फिक्र
  • नर्मदापुरम युवा मंडल ने गोबर से बने स्वास्थ्य के गणेश का खेत में विसर्जन कर अनूठी मिसाल पेश की

Dainik Bhaskar

Sep 14, 2019, 01:27 PM IST

होशंगाबाद. सुख, समृद्धि का आशीर्वाद देने वाले भगवान गजानन को श्रद्धालुओं ने उत्साह के साथ विदा किया। इस गणेशोत्सव शहर में धार्मिक परंपरा निभाने के साथ प्रकृति संरक्षण के लिए कई प्रयास अनूठे प्रयास किए गए। श्रद्धालुओं ने गजानन की 10 दिन सेवा के बाद ढोल बाजों के साथ जुलूस निकाला लेकिन पर्यावरण संरक्षण और आस्था की अहमियत समझकर घरों, पंडालों और खेतों में गणेशजी की मूर्ति का विसर्जन किया। 

 

वहीं सेठानी घाट पर बने कृत्रिम कुंड में गणपति प्रतिमा का विसर्जन किया। नर्मदापुरम युवा मंडल ने गोबर से बने स्वास्थ्य के गणेश का खेत में विसर्जन कर अनूठी मिसाल पेश की। राजमाता विजयाराजे सिंधिया कॉम्प्लेक्स में बने पंडाल से गोबर से बने स्वास्थ्य के गणेश की प्रतिमा को डीजे, ढोल बाजों के साथ ग्वालटोली में किसान नरेंद्र पटेल के खेत में विसर्जित किए। नर्मदापुरम युवा मंडल सदस्यों ने प्रतिमा खेत में रखकर शास्त्र विधि अनुसार पहले पूजन किया। इसके बाद ट्यूबवेल से पानी की सहस्त्रधारा से मूर्ति का विसर्जन किया।

 

इसलिए अलग थी प्रतिमा
मंडल अध्यक्ष अखिलेश खंडेलवाल ने बताया स्वास्थ्य के गणेश की 8 फीट की मूर्ति 10 किलो से अधिक गोबर से बनाई थी। इस झांकी से खेतों में उपयोग हो रहे रसायनों के दुष्प्रभाव को बताने और जैविक खाद के उपयोग के लोगों को जागरुक किया गया। रोज प्रसाद में जैविक खाद बांटी।

 

कृत्रिम कुंड में किया विसर्जन
नर्मदा नदी में इस बार जल स्तर बढ़ने के कारण नगर प्रशासन ने कृत्रिम कुंड की व्यवस्था बनाई थी। नपा ने ट्रॉली में पॉलिथिन लगाकर कृत्रिम कुंड बनाए थे। इसमें लोगों ने प्रतिमाओं का विर्सजन किया।

 

पंचामृत से किया मिट्‌टी के गणेश का अभिषेक
बालागंज में विंध्याचल क्लब ने गुरुवार को पंडाल के सामने कृत्रिम कुंड बनाकर 6 फीट की गजानन मूर्ति का सहस्त्रधारा विसर्जन किया। इससे पहले भगवान गणेश का नर्मदा जल, दूध सहित पंचामृत से सहस्त्रधारा अभिषेक किया गया। क्लब सदस्य प्रकाश गुप्ता ने बताया दूसरे वर्ष भगवान गणेश का सहस्त्रधारा विसर्जन किया। आचार्य सोमेश परसाई के आचार्यत्व में अभिषेक हुआ।

 

Ganesh

 

झांकी के सामने कृत्रिम कुंड बनाकर गणेश का सहस्त्रधारा अभिषेक किया। शाम 7 बजे से 9 बजे तक अभिषेक किया गया। 6 घंटे में प्रतिमा पूर्णत: विसर्जित हो गई। विसर्जन के बाद प्रतिमा की मिट्टी पौधों में डाली जाएगी। समिति हर साल मिट्टी के गणेश की प्रतिमा स्थापित करती है।

 

Dainik Rashifal - DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना