• Hindi News
  • Mp
  • Hoshangabad
  • When the supplementary arrives, a drunken student in the river wrote, "It is not so easy to die, but I am sad to meet

बैतूल / सप्लीमेंट्री आने पर नदी में कूदा छात्र, लिखा- मरना आसान नहीं, लेकिन परीक्षा में नंबर कम मिलने से दुखी हूं

Dainik Bhaskar

May 17, 2019, 07:48 PM IST



बैतूल में छात्र ने सप्लीमेंट्री आने पर नदी में कूदकर आत्महत्या कर ली। बैतूल में छात्र ने सप्लीमेंट्री आने पर नदी में कूदकर आत्महत्या कर ली।
पुलिस ने नदी से छात्र का शव निकाला। पुलिस ने नदी से छात्र का शव निकाला।
छात्र ने एक सुसाइड नोट छोड़ा है, जिसमें लिखा है कि मरना इतना आसान नहीं। छात्र ने एक सुसाइड नोट छोड़ा है, जिसमें लिखा है कि मरना इतना आसान नहीं।
जांच में जुटी पुलिस। जांच में जुटी पुलिस।
X
बैतूल में छात्र ने सप्लीमेंट्री आने पर नदी में कूदकर आत्महत्या कर ली।बैतूल में छात्र ने सप्लीमेंट्री आने पर नदी में कूदकर आत्महत्या कर ली।
पुलिस ने नदी से छात्र का शव निकाला।पुलिस ने नदी से छात्र का शव निकाला।
छात्र ने एक सुसाइड नोट छोड़ा है, जिसमें लिखा है कि मरना इतना आसान नहीं।छात्र ने एक सुसाइड नोट छोड़ा है, जिसमें लिखा है कि मरना इतना आसान नहीं।
जांच में जुटी पुलिस।जांच में जुटी पुलिस।

  • बैतूल में 12वीं में सप्लीमेंट्री आने पर छात्र ने की आत्महत्या 
  • एक पेज के सुसाइड नोट में लिखा- मेरी मौत के लिए कोई जिम्मेदार नहीं 

बैतूल. 12वीं में एक विषय में सप्लीमेंट्री आने से आहत एक छात्र ने शुक्रवार को नदी में कूदकर आत्महत्या कर ली। पुलिस को उसके जेब से एक पेज का सुसाइड नोट मिला है। जिसमें उसने लिखा है कि मरना इतना आसान नहीं है, वार्षिक परीक्षा में कम नंबर मिलने से आहत हूं। इस कारण मैं ये कदम उठा रहा हूं। 

 

पुलिस के अनुसार, घोड़ाडोंगरी निवासी छात्र सचिन पाटिल सुबह 9 बजे अपने घर से निकल गया था। पुलिस को उसका शव घोड़ाडोंगरी के देनवा नदी में मिला है। युवक देनवा नदी कैसे पहुंचा, इसकी जानकारी जुटाने के लिए सारणी और घोड़ाडोंगरी पुलिस जांच कर रही है। मृतक युवक की पहचान सचिन पाटील (18) के रूप में हुई है। वह शोभापुर के दुर्गा चौक का निवासी है और कक्षा बारहवीं का विद्यार्थी था।


मेरी मौत के लिए किसी का कोई दोष नहीं 

शव देनवा नदी में मिलने पर पुलिस को सूचना दी गई, मौके पर घोड़ाडोंगरी, सारणी और रानीपुर की पुलिस पहुंची और उन्होंने शव को बाहर निकाला। पुलिस ने बताया कि सचिन पाटिल ने आत्महत्या की है। उसकी जेब में एक सुसाइड नोट भी मिला है। जिसमें अंग्रेजी में लिखा है कि मरना इतना आसान नहीं है, मुझे वार्षिक परीक्षा में कम नंबर मिले हैं। इससे आहत हूं और इसलिए मैं इस तरह का कदम उठा रहा हूं। मेरी मौत में किसी का कोई हाथ नहीं है। मरना इतना आसान नहीं है। आप मरने की कोशिश भी ना करना।  

 

मृतक युवक के पास से सुसाइड नोट मिलने से ये स्पष्ट हो गया है कि कक्षा 12वीं में कम अंक आने की वजह से ही सचिन पाटिल ने आत्महत्या की है। पुलिस ने छात्र का शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। 

COMMENT