आक्रोश / मॉब लिंचिंग के खिलाफ राजबाड़ा पर प्रदर्शन, सरकार से कड़े कानून बनाने की मांग



माॅब लिचिंग की घटनाओं को प्रदर्शन के दौरान दिखाया गया। माॅब लिचिंग की घटनाओं को प्रदर्शन के दौरान दिखाया गया।
X
माॅब लिचिंग की घटनाओं को प्रदर्शन के दौरान दिखाया गया।माॅब लिचिंग की घटनाओं को प्रदर्शन के दौरान दिखाया गया।

  • शहर के 22 संगठनों ने राजबाड़ा पर मॉब लिचिंग के खिलाफ धरना दिया

Dainik Bhaskar

Jul 13, 2019, 06:24 PM IST

इंदौर. देशभर के अलग-अलग राज्यों में हो रही मॉब लिंचिंग की घटनाओं के विरोध में शनिवार को राजबाड़ा पर बुद्धिजीवी वर्ग ने धरना। उन्होंने भीड़ द्वारा की जाने वाली हिंसा की निंदा करते हुए कहा कि इससे देश में असहिष्णुता का माहौल बन रहा है। धरना-प्रदर्शन में बड़ी संख्या में बुद्धिजीवियों ने भाग लिया। 

 

बुद्धिजीवी हामिद खान ने बताया कि देश में लगातार मॉब लिचिंग के मामले बढ़ते जा रहे हैं, जिसके विरोध में शहर 22 संगठनों ने राजबाड़ा पर धरना प्रदर्शन किया। खान ने कहा कि ऐसी घटनाओं को अंजाम देकर देश को धर्म के नाम पर बांटा जा रहा है। कोर्ट के दखल के बाद भी सरकार इस पर कोई कानून नहीं बना रही है, हालांकि मध्य प्रदेश सरकार ने हाल ही में नए कानून के साथ मॉब लिचिंग पर रोक लगाने का प्रयास किया है। ऐसी घटनाएं बढ़ने से देश में असहिष्णुता का माहौल बन रहा है। हम सरकार ने मांग करते हैं कि ऐसी घटनाओं पर रोक लगाने के लिए कड़े कानून बनाएं। 

COMMENT