Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» 2 Daughters Of Weddings Were Being Raised, Death In A Painful Accident

2 बेटियों की शादियों के जुटा रहा था रूपए, दर्दनाक हादसे में हो गई मौत

शहाबुद्दीन खां लपाला अलवर का निवासी था। इनकी 5 लड़की व एक लड़का हैं।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 04, 2017, 07:14 AM IST

  • 2 बेटियों की शादियों के जुटा रहा था रूपए, दर्दनाक हादसे में हो गई मौत
    +1और स्लाइड देखें

    सनावद/बड़वाह (इंदौर).शहाबुद्दीन खां लपाला अलवर का निवासी था। इनकी 5 लड़की व एक लड़का हैं। इसमें से सबसे बड़ी लड़की की शादी हो चुकी थी। एक माह बाद जनवरी में दो लड़कियों की शादी थी। इसके लिए वह दो माह से ट्राला चला कर रुपए एकत्र कर रहा था। घटना के बाद मौके पर पहुंचे ट्रक ड्राइवर व साले सद्दाम ने यह बात बताई। उसने बताया ग्वालू घाट पर कंटेनर व ट्राला भिड़ंत में जो दो लोग जिंदा जले थे, वह आपस में काका-भतीजे थे। काका शहाबुद्दीन खां ड्राइवर था।

    - भतीजा जाहीर खान कंडक्टरी करता था। ट्राला के जलने से दस्तावेजों सहित डेढ़ लाख रुपए जल गए। करीब दो माह पहले शहाबुद्दीन व जाहीर ट्राले से काकरोली से हैदराबाद मार्बल लेकर गया था। वहां से उसे 85 हजार रुपए भाड़े के मिले थे।

    - इसके बाद हैदराबाद से वणी गया था। वणी से काकरोली तक कोयला भरकर ला रहा था। इसके लिए उसे 55 हजार रुपए भाड़े के मिले थे। इसके अलावा उसके पास अन्य नकदी रुपए भी थे। जाहीर की शादी हो गई थी। तीन बच्चे हैं। दुर्घटना की परिजनों को सूचना मिल गई थी लेकिन उन्हें उनके मरने की सूचना नहीं दी गई है। उन्हें केवल इलाज कराने की जानकारी बताई है।

    10 ट्रक चालकों ने काम बंद कर शव लेकर लौटे
    - ड्राइवर लियाकत अली, हरशित खान, कल्लू खान, शरीफ खान, सोकीना सहित अन्य ने बताया हम सभी आसपास के क्षेत्र के ड्राइवर हैं।

    - दुर्घटना की सूचना मिलने के बाद करीब 10 ड्राइवर ट्रक लेकर घटना स्थल पर पहुंचे। शोक के रूप में सभी ड्राइवरों ने काम बंद कर दिया।

    - सभी शव लेकर घर के लिए रवाना हो गए। उन्होंने बताया शहाबुद्दीन करीब 20 साल से ड्राइवर का काम कर रहा था लेकिन आज तक एक बार भी एक्सीडेंट नहीं हुआ था।

    - पहली बार ही वह हादसे का शिकार हुआ और मौत हो गई।

    इसके पहले भी हादसे में जले थे 4 लोग जिंदा

    - पहले भी दो बड़े हादसे इसी स्थान पर हो चुके हैं। 2010 में हार्वेस्टर व ट्रक की भिड़ंत हुई थी। इसमें 4 लोग जिंदा जल गए थे।

    - इसके कुछ साल पहले रेत से भरे ट्रक की दुर्घटना होने से 14 लोग दब कर मर चुके हैं।

  • 2 बेटियों की शादियों के जुटा रहा था रूपए, दर्दनाक हादसे में हो गई मौत
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×