--Advertisement--

कीर्ति जैन : समय के साथ चलकर ट्रेडिशनल ड्रेसेज में किए ऐसे बदलाव

अब कपड़ों और उनके पहनने के तरीकों में भी बदलाव साफ नजर आ रहा है।

Dainik Bhaskar

Feb 08, 2018, 03:15 PM IST
The Pride of Madhya Pradesh : Tanvi Fashions

इंदौर. जब हर जगह बदलाव की हवा चल रही हो तो इससे वस्त्र कैसे बच सकते हैं। अब कपड़ों और उनके पहनने के तरीकों में भी बदलाव साफ नजर आ रहा है। लोग ट्रेडिशनल के साथ वेस्टर्न का फ्यूजन भी चाहने लगे हैं।

The Pride of Madhya Pradesh सीरीज में आज हम आपकी मुलाकात तन्वी फैशन्स के डायरेक्टर कीर्ति जैन से करवा रहे हैं। इन्होंने बदलाव की इस बयार को समय रहते ही समझा और आज अपने कस्टमर्स को लेटेस्ट से लेटेस्ट फैशन के कपड़े उपलब्ध करवा रहे हैं।

कैसे हुई शुरुआत?
साल 1947 में राजमल पारस कुमार गोटावाला ने इंदौर में इस प्रतिष्ठान की नींव रखी थी। इन 70 सालों में तन्वी फैशन्स में कई परिवर्तन आए। पारस कुमार के बेटे और तन्वी फैशन्स के डायरेक्टर कीर्ति जैन ने इसे नई ऊंचाइयों पर पहुंचाया। वे बताते हैं कि जब उन्हें लगा कि होलसेल में वह बात नहीं रही, तो उन्होंने रिटेल में शुरुआत की। कीर्ति जैन ने 1996 में इंदौर के रेसकोर्स रोड पर संस्कृति नाम से रिटेल शोरूम शुरू किया। इसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा।
- कीर्ति कहते हैं कि बदलते दौर के साथ हम भी बदल रहे हैं। यही तन्वी की यूएसपी है। उनका कहना है कि तन्वी फैशन्स सेवा, प्रतिबद्धता और समय के अनुरूप ग्राहकों को नई-नई डिजाइनें उपलब्ध करवाता है।
- टीवी सीरियल्स और मैग्जीन्स से नई-नई फैशन का पता चलता है और इसके अनुसार हम कपड़े तैयार करवा पाते हैं।

वेस्टर्न कल्चर से इंस्पायर है आज का फैशन

तन्वी फैशन्स की फैशन डिजाइनर कनिष्का जैन कहती हैं कि आजकल का फैशन वेस्टर्न कल्चर से बहुत इंस्पायर है। इसलिए जहां इंडियन ट्रेडिशन में वेस्टर्न के अनुसार चेंज किया जाता है तो वेस्टर्न में इंडियन ट्रेडिशन का एसेंस डालकर उसमें फ्यूजन किया जाता है। यह सबकुछ तन्वी फैशन्स में मिलता है।

वीडियो में देखिए - तन्वी फैशन्स की सफलता का पूरा सफर

X
The Pride of Madhya Pradesh : Tanvi Fashions
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..