--Advertisement--

ये हैं एशिया का बिगेस्ट ऑटो टेस्टिंग सेंटर, 350 KM की स्पीड से फरारी भी होगी टेस्ट

ट्रैक सड़कें ऐसी हैं कि यहां वॉर में इस्तेमाल होने वाले फाइटर प्लेन भी लैंड कर सकेगा।

Dainik Bhaskar

Jan 23, 2018, 05:00 AM IST
ड्राई हैंडलिंग ट्रैक- 2 व 3 पहिया वाहनों की हाई स्पीड में हैंडलिंग पावर, रोड ग्रिप, कर्व पर घुमाव आदि देखते हैं। ड्राई हैंडलिंग ट्रैक- 2 व 3 पहिया वाहनों की हाई स्पीड में हैंडलिंग पावर, रोड ग्रिप, कर्व पर घुमाव आदि देखते हैं।

इंदौर. एशिया के सबसे बड़े और दुनिया के बड़े ऑटो टेस्टिंग ट्रैक में से एक नेटरेक्स (नेशनल ऑटोमोटिव टेस्ट ट्रैक्स), जो इंदौर से 30 किमी दूर पीथमपुर में बना है, 28 जनवरी को यह शुरू हो जाएगा। इस पर बाइक से लेकर 350 की स्पीड से फरारी तक की टेस्टिंग हो सकेगी। ट्रैक सड़कें ऐसी हैं कि यहां युद्धक लड़ाकू विमान भी लैंड कर सकेगा। यहां एंटी ब्रेक सिस्टम (एबीएस), टायर की क्षमता, वाहन का बॉडी चेक, च्वॉइस कंट्रोल, ईंधन की खपत, परफार्मेंस कंट्रोल आदि कई जांच की सुविधाओं के साथ 14 तरह के ट्रैक हैं, जो देश में कहीं भी नहीं है।

दोपहिया से लेकर भारी ट्रक तक की टेस्टिंग
नेटट्रिप के एडिशनल डायरेक्टर व साइट हेड डॉ. एन. करप्पिहा के मुताबिक देश का यह पहला सेंटर होगा, जहां व्हीकल डायनाॅमिक्स, पावर ट्रैक सहित विभिन्न लैब के साथ 14 तरह के ट्रैक्स रहेंगे। 13 ट्रैक तैयार हो चुके हैं, जिनमें खराब, सामान्य, पहाड़ी, सामान्य बायपास, गीला और सूखे जैसे ट्रैक बनाए गए हैं।

11.30 किमी का है हाई स्पीड सर्किट
यहां ओवल शेप में हाई स्पीड ट्रैक भी बन रहा है। इसका सर्किट 11.30 किमी का है, जो अधिकतम 3.5 किमी लंबा है। हाई स्पीड के इतने बड़े सर्किट लैप और अधिकतम लंबाई व एरिया के लिहाज से यह दुनिया के सबसे बड़े रेस ट्रैक में से एक में माना जा रहा है। इस पर फरारी भी दौड़ सकेगी। यह एक साल में तैयार होगा।

आपके लिए क्या खास

ऑटो सेक्टर में इंदौर ग्लोबल मैप पर आएगा, ऑटो टेस्टिंग सुविधा एक जगह होने से ऑटो कंपनियां उत्पादन शुरू कर सकेंगी, इससे रोजगार बढ़ेगा।

इन शहरों में विकसित हो रहे हैं ऐसे सेंटर
नेटट्रिप (नेशनल ऑटोमोटिव टेस्टिंग एंड रिसर्च एंड डेवलपमेंट इन्फ्रास्ट्रक्चर) प्रोजेक्ट के तहत देश में इंदौर के अलावा चेन्नई, रायबरेली, मानेसर, अहमद नगर, पुणे, सिलचर में भी ऐसे सेंटर विकसित किए जा रहे हैं। नेटट्रिप के एडिशनल डायरेक्टर डॉ. एन. करप्पिहा ने बताया कि इंदौर का नेटरेक्स लैब, ट्रैक देश और एशिया में नंबर-1 है।

फोटोज- ओ.पी. सोनी।

हिल ट्रैक- इस पर वाहन की चढ़ाई के दौरान क्षमता और माइलेज आदि कैसा है, इस बात की टेस्टिंग होगी। हिल ट्रैक- इस पर वाहन की चढ़ाई के दौरान क्षमता और माइलेज आदि कैसा है, इस बात की टेस्टिंग होगी।
देश में 7 सेंटर, यह इकलौता जहां सभी तरह के 14 ट्रैक देश में 7 सेंटर, यह इकलौता जहां सभी तरह के 14 ट्रैक
सस्टैंबिलिटी ट्रैक- वाहन चलने के दौरान कितने कंफर्ट हैं, स्पीड ब्रेकर का क्या प्रभाव है, इसकी टेस्टिंग होगी। सस्टैंबिलिटी ट्रैक- वाहन चलने के दौरान कितने कंफर्ट हैं, स्पीड ब्रेकर का क्या प्रभाव है, इसकी टेस्टिंग होगी।
X
ड्राई हैंडलिंग ट्रैक- 2 व 3 पहिया वाहनों की हाई स्पीड में हैंडलिंग पावर, रोड ग्रिप, कर्व पर घुमाव आदि देखते हैं।ड्राई हैंडलिंग ट्रैक- 2 व 3 पहिया वाहनों की हाई स्पीड में हैंडलिंग पावर, रोड ग्रिप, कर्व पर घुमाव आदि देखते हैं।
हिल ट्रैक- इस पर वाहन की चढ़ाई के दौरान क्षमता और माइलेज आदि कैसा है, इस बात की टेस्टिंग होगी।हिल ट्रैक- इस पर वाहन की चढ़ाई के दौरान क्षमता और माइलेज आदि कैसा है, इस बात की टेस्टिंग होगी।
देश में 7 सेंटर, यह इकलौता जहां सभी तरह के 14 ट्रैकदेश में 7 सेंटर, यह इकलौता जहां सभी तरह के 14 ट्रैक
सस्टैंबिलिटी ट्रैक- वाहन चलने के दौरान कितने कंफर्ट हैं, स्पीड ब्रेकर का क्या प्रभाव है, इसकी टेस्टिंग होगी।सस्टैंबिलिटी ट्रैक- वाहन चलने के दौरान कितने कंफर्ट हैं, स्पीड ब्रेकर का क्या प्रभाव है, इसकी टेस्टिंग होगी।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..