Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» At The Age Of 14 He Was Forced To Convert To Islam

एक बच्चे की मां ने कहा- 14 साल की थी तब जबर्दस्ती धर्मांतरण कर निकाह किया

दो दिन पूर्व उसने शाजापुर थाने पर अपने साथ हुई घटना सुनाई।

bhaskar news | Last Modified - Jan 14, 2018, 04:41 AM IST

  • एक बच्चे की मां ने कहा- 14 साल की थी तब जबर्दस्ती धर्मांतरण कर निकाह किया
    डेमोफोटो

    देवास-कन्नौद.कन्नौद थानाक्षेत्र की 14 वर्षीय किशोरी का पांच साल पहले अपहरण कर उसका जबर्दस्त धर्मांतरण करा दिया और फिर निकाह कराकर ज्यादती करते रहे। अब वह बालिग हो चुकी है और एक बच्चे की मां है। दो दिन पूर्व उसने शाजापुर थाने पर अपने साथ हुई घटना सुनाई।

    शाजापुर पुलिस ने जीरो पर तीन लोगों के खिलाफ अपहरण, ज्यादती और पॉक्सो एक्ट का मामला दर्ज कर कन्नौद थाने को डायरी भेजी है। इधर, पीड़िता के माता पिता ने कहा कि जब लड़की लापता हुई थी तब कन्नौद थाने पर आवेदन दिया था लेकिन उसका कोई कागज या प्राप्ति नहीं बता पा रहे हैं।
    कन्नौद के थाना प्रभारी आरके चतुर्वेदी ने बताया शुक्रवार को शाजापुर कोतवाली पुलिस थाना से जीरो पर कायमी कर एक एफआईआर प्राप्त हुई है। इसमें एक महिला ने तीन आरोपियों के विरुद्ध जबरदस्ती धर्मांतरण कर निकाह करने, अपहरण एवं ज्यादती का प्रकरण दर्ज कराया है। पुलिस द्वारा आरोपी राजा उर्फ आशीक खां, अजहर खां, नूर फातिमा खां सभी निवासी उज्जैन के विरुद्ध केस दर्ज किया है। उक्त प्रकरण थाना कन्नौद प्राप्त हो चुका है जिसकी जांच एसडीओपी शेरसिंह भूरिया करेंगे।


    पुलिस ने प्रकरण आने के बाद आरोपियों की गिरफ्तार के उज्जैन में छापे मारे हैं। एसडीओपी भूरिया स्वयं ही बल के साथ गिरफ्तारी के लिए उज्जैन गए हुए हैं।

    देवास जिले की रहने वाली है पीड़िता

    खर्दुली निवासी पीड़िता का जब अपहरण कर निकाह किया तब वह मात्र 13 या 14 साल की थी और सातवीं की छात्रा थी। उसके लापता होने के बाद परिजन ने थाने पर आवेदन दिए लेकिन बाद में कोई कार्रवाई नहीं हुई। महिला ने बताया वर्ष 2013 में आशीक खां उर्फ राजा जो रेत का ट्रक चलाता था, वह जबर्दस्ती ले गया था। फिर उसने बंधक बनाकर रखा और धर्मांतरण कराकर जबर्दस्ती निकाह कर लिया। अब उसका दो साल का एक पुत्र है लेकिन उसे कभी वहां से निकलने का मौका नहीं मिला। जैसे ही उसे मौका मिला तो उज्जैन से भागकर वह शाजापुर आई और यहां थाने पर आपबीती सुनाई।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×