इंदौर

--Advertisement--

बैलेंस बिगड़ने पर कार के नीचे दबा बाइकर, लोगों ने ऐसे बचाई जान

संतुलन बिगड़ने पर बाइक से गिरकर तेज रफ्तार कार के नीचे आ गया था युवक।

Dainik Bhaskar

Feb 15, 2018, 02:23 AM IST
स्कीम के रहने वाले यश भगत स्प्लैंडर बाइक पर मरीमाता चौराहे से भंडारी ब्रिज तरफ जा रहे थे। स्कीम के रहने वाले यश भगत स्प्लैंडर बाइक पर मरीमाता चौराहे से भंडारी ब्रिज तरफ जा रहे थे।

इंदौर. बुधवार शाम को ब्रिज तरफ जा रहे एक युवक डिवाइडर की क्राॅसिंग पर गाड़ी का बैलेंस बिगड़ने पर गिर गए। इसी सामने से आ रही एक स्विफ्ट कार उन पर चढ़ गई। कार के नीचे दबा युवक चीखने लगा। तभी वहां से गुजर रहे भास्कर संवाददाता ने रुककर ड्राइवर को कार आगे-पीछे नहीं करने को कहा। फिर लोगों के साथ कार उठाने में जुट गए। कुछ ही देर में कार के आगे का बंपर तोड़कर युवक को खींचकर बाहर निकाला। हादसे से घायल युवक कुछ देर तक बोल ही नहीं पाए। कुछ देर बाद थोड़े नॉर्मल हुए, तब उन्होंने बताया कि उन्हें कहीं कोई चोट नहीं आई। क्या है मामला...

- दरअसल, बुधवार शाम 4.55 बजे का समय था। स्कीम के रहने वाले यश भगत स्प्लैंडर बाइक पर मरीमाता चौराहे से भंडारी ब्रिज तरफ जा रहे थे। वे पोलोग्राउंड मेन रोड पर पहुंचे ही थे कि उद्योग भवन के सामने डिवाइडर की क्राॅसिंग पर गाड़ी का बैलेंस बिगड़ा और वह गिरकर सड़क की दूसरी तरफ पहुंच गए।

- तभी मरीमाता की ओर जा रही स्विफ्ट कार उन पर चढ़ गई। कार के नीचे दबे यश चीखने लगे। कार चालक को इसका पता भी नहीं था। तभी वहां से जा रहे भास्कर संवाददाता ने यह देखकर कार ड्राइवर को रुकवाया और गाड़ी आगे-पीछे नहीं करने को कहा। फिर लोगों के साथ कार उठाने में जुट गए।

- यहां से गुजर रहे एरोड्रम टीआई आरडी कानवा भी भीड़ देखकर रुके और कार उठाने में मदद करने लगे। कुछ ही देर में कार के आगे का बंपर तोड़कर यश को खींचकर बाहर निकाला।


कुछ समय तक बोल ही नहीं पाया युवक
- हादसे से बदहवास यश कुछ देर तक बोल ही नहीं पाए। कुछ देर बाद थोड़े नॉर्मल हुए, तब उन्होंने बताया कि उन्हें कहीं कोई चोट नहीं आई।

- कार चालक ने उन्हें अस्पताल ले जाने की बात कही, लेकिन उन्होंने कहा कि वह ठीक है। इस तरह आम लोगों के साथ ही पुलिस की सक्रियता के चलते युवक की जान बच गई।

डीपीएस हादसे के बाद अस्पताल में दिखी इंदौरियत भी चर्चा में थी

- फोटो 5 जनवरी 2018 की है। डीपीएस बस हादसे में घायल बच्चों को बॉम्बे हॉस्पिटल में भर्ती किया गया था। इसी बीच, खबर फैली कि घायल बच्चों के लिए ब्लड की जरूरत है। इस पर वहां इतने लोग खून देने पहुंच गए थे कि अस्पताल प्रबंधन को अनाउंस करना पड़ा था कि जाइए, ब्लड काफी है।

अब तक ऐसे फोटो विदेश के आते थे

ऑस्ट्रेलिया के शहर पर्थ में स्टर्लिंग स्टेशन पर एक युवक का पांव ट्रेन के नीचे आ गया था। यात्रियों ने मिलकर बोगी को धकेल दिया। युवक की जान बच गई।

लोगों ने कार को शिफ्ट करते युवक को फंसाया। लोगों ने कार को शिफ्ट करते युवक को फंसाया।
कार के आगे का बंपर तोड़कर युवक को खींचकर बाहर निकाला। कार के आगे का बंपर तोड़कर युवक को खींचकर बाहर निकाला।
उद्योग भवन के सामने डिवाइडर की क्राॅसिंग पर गाड़ी का बैलेंस बिगड़ा और वह गिरकर सड़क की दूसरी तरफ पहुंच गए। उद्योग भवन के सामने डिवाइडर की क्राॅसिंग पर गाड़ी का बैलेंस बिगड़ा और वह गिरकर सड़क की दूसरी तरफ पहुंच गए।
पहले ऐसी तस्वीर विदेश से आते थे। पहले ऐसी तस्वीर विदेश से आते थे।
balance goes down,undercarriage  car, people save like
balance goes down,undercarriage  car, people save like
X
स्कीम के रहने वाले यश भगत स्प्लैंडर बाइक पर मरीमाता चौराहे से भंडारी ब्रिज तरफ जा रहे थे।स्कीम के रहने वाले यश भगत स्प्लैंडर बाइक पर मरीमाता चौराहे से भंडारी ब्रिज तरफ जा रहे थे।
लोगों ने कार को शिफ्ट करते युवक को फंसाया।लोगों ने कार को शिफ्ट करते युवक को फंसाया।
कार के आगे का बंपर तोड़कर युवक को खींचकर बाहर निकाला।कार के आगे का बंपर तोड़कर युवक को खींचकर बाहर निकाला।
उद्योग भवन के सामने डिवाइडर की क्राॅसिंग पर गाड़ी का बैलेंस बिगड़ा और वह गिरकर सड़क की दूसरी तरफ पहुंच गए।उद्योग भवन के सामने डिवाइडर की क्राॅसिंग पर गाड़ी का बैलेंस बिगड़ा और वह गिरकर सड़क की दूसरी तरफ पहुंच गए।
पहले ऐसी तस्वीर विदेश से आते थे।पहले ऐसी तस्वीर विदेश से आते थे।
balance goes down,undercarriage  car, people save like
balance goes down,undercarriage  car, people save like
Click to listen..