Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» Car And Truck Collision On Road

टक्कर के बाद भी पहिए के नीचे फंसी रही कार, 50 फीट घसीट कर ले गई बस

अंदर तक घुस चुकी कार को निकालने बस को क्रेन बुलवाकर पलटाना पड़ा।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 23, 2018, 08:09 AM IST

टक्कर के बाद भी पहिए के नीचे फंसी रही कार, 50 फीट घसीट कर ले गई बस

उज्जैन. चिंतामन मुल्लापुरा बायपास पर सोमवार सुबह 7.30 बजे यात्रियों से भरी तेज रफ्तार बस से मोड़ पर सामने से आ रही कार की जोरदार भिड़ंत हो गई। कार भी स्पीड में होने से बस के अंदर घुसकर पहिए में फंस गई, जिसे बस चालक घसीटते हुए 50 फीट दूर खेत में ले जाकर रुका। हादसे के बाद बस में सवार यात्रियों को उतारा व क्रेन बुलवाकर लोगों की मदद से बस को पलटाया। इसके बाद उसके नीचे कार में फंसे युवकों को बाहर निकाला।

कार निकालने क्रेन बुलवाकर बस को पलटी खिलाना पड़ा

- चिंतामन के नए ब्रिज से मुल्लापुरा की ओर जाने वाले मोड़ पर यह दुर्घटना हुई। सुबह बड़नगर से आ रही बस एमपी 13 पी- 0818 से कार एमपी 09 एन-6228 की भिड़ंत हो गई। कार में सवार राहुल पिता भरत सोलंकी निवासी इंगोरिया की मौके पर मौत हो गई। राहुल ही कार चला रहा था व उसके बगल की सीट पर साथी शुभम राजपूत निवासी गौतमपुरा बैठा था, जो गंभीर घायल हो गया।

- मोड़ पर दोनों वाहनों की स्पीड तेज होने से हादसा हुआ। बस में 60 यात्री सवार थे लेकिन किसी को चोट नहीं आई। अामने-सामने की भिड़ंत में कार बस के अंदर तक घुस गई व पहिए में फंस गई थी इसी कारण उसे निकालने के लिए बस को क्रेन बुलवा पलटी खिलाना पड़ा।

- हादसे में मृत युवक नानाखेड़ा महाकाल वाणिज्य केंद्र स्थित माॅल में काॅफी शॉप पर काम करता था। तीन दिन पहले ही उसकी नौकरी लगी थी। घायल युवक भी उसी माॅल में एक अन्य शॉप पर कर्मचारी है। शुभम को फ्रीगंज के निजी अस्पताल में भर्ती किया है। उसके साथी इदरीस ने बताया शाम तक वह वेंटीलेटर पर ही था।

60 जान जोखिम में डाल गेटर लगे टाॅयरों से दौड़ रही थी बस

जिस बस से हादसा हुआ, उसके तीन पहिए के टॉयर फटे थे व गेटर लगाकर उसे दौड़ाया जा रहा था। उक्त बस, जिसके तीन-तीन पहिए में गेटर लगे हो, उसमें 60 यात्रियों की जान जोखिम में डालकर चलाया जा रहा था। हादसा होने पर पलटी बस के टायर देखने पर यह हकीकत सामने आई। महाकाल पुलिस ने भी बस के टायर देख कहा ऐसी बस से हादसा ही होना है। प्रत्यक्षदर्शी ने कहा स्कूल बस ही नहीं यात्री बसों की भी जांच होनी चाहिए। बस में 60 यात्री सवार थे, बड़ा हादसा भी हो सकता था।

ये तीन लोग सबसे पहले पहुंचे व मदद की

मुल्लापुरा रोड निवासी विजय माली व गोविंद यादव समेत एफआरवी का कांस्टेबल सुभाष पटेल घटनास्थल पर सबसे पहले पहुंचे। माली ने बताया हादसे के लिए दोनों ही जिम्मेदार हैं। मोड़ पर बस वाले ने तो ब्रेक लगाए लेकिन कार वाला सीधे घुस गया। बस को खेत में लोगों की मदद से पलटी खिलाने के बाद चकनाचूर हुई कार का गेट तोड़कर दोनों युवकों को निकाला। बस वाले से पूछा- कार नहीं दिखी तो वह बोला कार कब बस में आकर घुस गई, समझ नहीं पाया। टक्कर लगने पर समझा बस का टायर फट गया है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Indore News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: takkar ke baad bhi phie ke niche fnsi rhi kar, 50 fit ghsit kar le gayi bs
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×