--Advertisement--

18 शहरों से सीधी कनेक्टिविटी, रोज 13 हजार सीटें, नाइट पार्किंग से 5 दर्जन नई उड़ानें

देवी अहिल्या एयरपोर्ट पर नाइट पार्किंग की सुविधा के कारण ही 25 मार्च से इंदौर को 60 नई उड़ानें मिल रही हैं।

Dainik Bhaskar

Jan 15, 2018, 05:48 AM IST
Direct connectivity from 18 cities, 13 thousand seats per day

इंदौर. देवी अहिल्या एयरपोर्ट पर नाइट पार्किंग की सुविधा के कारण ही 25 मार्च से इंदौर को 60 नई उड़ानें मिल रही हैं। इससे यात्रियों को रोज छह हजार से ज्यादा नई सीटें मिल सकेंगी। नई सीटों को मिलाकर रोज 13 हजार से ज्यादा सीटें हो जाएंगी। वहीं इंदौर से अब यात्री रात 12 बजे बाद भी हवाई सफर कर सकेंगे। विशेषज्ञों की मानें तो इंदौर के 82 साल के एविएशन इतिहास में पहली बार ऐसा होगा, जब एक साथ इतनी उड़ानें शुरू होंगी। एयरपोर्ट डायरेक्टर अर्यमा सान्याल ने बताया कि इतनी उड़ानें एक साथ आने का बड़ा कारण यहां से शुरू होने वाली नाइट पार्किंग की सुविधा है।

नाइट फ्लाइट्स से किराए में मिलेगी राहत
- कुछ उड़ानों को 1 अप्रैल, 16 अप्रैल, 22 अप्रैल, 16 जून, 1 जुलाई, 2 अगस्त व 1 सितंबर से संचालन की अनुमति दी गई है।

- किराया भी 3 से 4 हजार रुपए के बीच रहने की संभावना है।

- सीटें बढ़ने से यात्रियों को किराए में भी राहत मिलेगी, क्योंकि ज्यादातर फ्लाइट्स रात की उड़ानों में किराया कम रखती हैं।

पहली बार 5 नए राज्यों के लिए हवाई सेवा
- नई उड़ानों में इंदौर से छह नए शहरों के लिए पहली बार सीधी उड़ानें शामिल हैं, इनमें कोलकाता, लखनऊ, पटना, चंडीगढ़, गुवाहाटी, जोधपुर शामिल हैं।

- इन उड़ानों से इंदौर पहली बार पांच प्रदेशों से सीधे जुड़ेगा। इनमें पश्चिम बंगाल, उत्तरप्रदेश, बिहार, चंडीगढ़ और असम शामिल हैं।

चौथे महानगर से भी जुड़ जाएगा इंदौर
- अब तक इंदौर से दिल्ली, मुंबई और चेन्नई के लिए सीधी उड़ानें संचालित होती थीं।

- नए शेड्यूल में 2 अगस्त से कोलकाता के लिए उड़ान शुरू होने से इंदौर चारों महानगरों से जुड़ेगा।

- इंदौर से अहमदाबाद, रायपुर, नागपुर, जयपुर, बैंगलुरु के लिए भी दो या दो ज्यादा उड़ानें मिल सकेंगी।

गुवाहाटी के 48, पटना के 27 घंटे ट्रेन से, अब मिल सकेगी फ्लाइट सुविधा
- इंदौर से अभी कोलकाता, गुवाहाटी और पटना के लिए सीधी उड़ान नहीं है। इंदौर से गुवाहाटी के लिए सप्ताह में एक और पटना व कोलकाता के लिए सप्ताह में दो-दो दिन ट्रेनें हैं।

- ट्रेन से गुवाहाटी जाने के लिए 48 घंटे, कोलकाता के लिए 32 घंटे और पटना जाने के लिए 27 घंटे लगते हैं। अब इन शहरों के लिए हवाई सुविधा मिल सकेगी।

कार्गो बढ़ेगा, इंडस्ट्री को भी होगा फायदा
- यात्रियों के साथ ही कार्गो को भी बढ़ावा मिलेगा। नए विमान आने से कार्गो का आना और जाना बढ़ जाएगा। इससे इसकी दरें भी कम होना संभावित हैं, जिसका बड़ा फायदा इंदौर और इससे लगे इंडस्ट्रियल एरिया को मिलेगा।

पर्यटन और व्यापार को मिलेगा बढ़ावा
- इंदौर सहित मध्यप्रदेश के पर्यटन और व्यापार को बढ़ावा मिलेगा। नए शहर जुड़ने से इंदौर का उनसे सीधा व्यापारिक संपर्क स्थापित हो सकेगा। वहीं ऐसे शहरों से लोग यहां घूमने के लिए भी आएंगे। इंदौर सहित प्रदेश के लोगों को इन शहरों तक घूमने जाने में भी आसानी होगी।

25 मार्च के बाद इंदौर से जुड़ने वाली सभी फ्लाइट्स का शेड्यूल

- अभी इंदौर एयरपोर्ट से सबसे ज्यादा उड़ानें दिल्ली और मुंबई के लिए संचालित होती हैं। दोनों ही शहरों से आठ-आठ उड़ानें आती हैं और इतनी ही जाती हैं। जबकि नए शेड्यूल में दिल्ली से आने वाली उड़ानों की संख्या 9 और जाने वाली उड़ानों की संख्या 10 हो जाएगी। इसी तरह मुंबई से आने वाली उड़ानों की संख्या 12 और जाने वाली उड़ानों की संख्या 13 हो जाएगी।

X
Direct connectivity from 18 cities, 13 thousand seats per day
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..