--Advertisement--

साबूदाना खिचड़ी और मिठाई खाने से फू़ड पॉइजनिंग, 300 लोग एक साथ हुए बीमार

साबुदाने की खिचड़ी और आलू की मिठाई खाने से 300 से ज्यादा लोगों को उल्टी और पेटदर्द होने से जिला अस्पताल में भर्ती किया।

Danik Bhaskar | Feb 14, 2018, 05:12 AM IST
पीपरी के पास दहीबेड़ा नर्मदा तट के पास गोविंद महाराज के आश्रम में शिवरात्रि पर बांटी गई साबुदाने की खिचड़ी और आलू की मिठाई खाने से 300 से ज्यादा लोगों को उल्टी और पेटदर्द होने से जिला अस्पताल में भर्ती किया गया। पीपरी के पास दहीबेड़ा नर्मदा तट के पास गोविंद महाराज के आश्रम में शिवरात्रि पर बांटी गई साबुदाने की खिचड़ी और आलू की मिठाई खाने से 300 से ज्यादा लोगों को उल्टी और पेटदर्द होने से जिला अस्पताल में भर्ती किया गया।

बड़वानी (इंदौर). पीपरी के पास दहीबेड़ा नर्मदा तट के पास गोविंद महाराज के आश्रम में शिवरात्रि पर बांटी गई साबुदाने की खिचड़ी और आलू की मिठाई खाने से 300 से ज्यादा लोगों को उल्टी और पेटदर्द होने से जिला अस्पताल में भर्ती किया गया। कुछ निजी अस्पताल में भी भर्ती किए गए। मरीजों को वार्ड तक पहुंचाने के लिए स्ट्रेचर कम पड़े तो शहरवासियों ने गोद में उठाकर वार्ड तक पहुंचाया। कुछ मरीजों को भर्ती कराने के लिए गादियां बिछाई। सिविल सर्जन ने दौड़-दौड़कर सलाइन मरीजों तक पहुंचाई। बताया जा रहा है कि पांच से ज्यादा गांवों के लोग उल्टी और पेटदर्द से पीड़ित है।


- मंगलवार को सुबह 9 बजे से दोपहर 3 बजे तक श्रद्धालुओं को खिचड़ी बांटी। इस दौरान एक साथ ज्यादा लोगों को बीमार होते देख प्रसादी का वितरण बंद किया गया। लगातार मरीजों की संख्या बढ़ती गई, जिन्हें अस्पताल पहुंचाने के लिए लोडिंग वाहन, स्कूल बस, 108 एंबुलेंस, डायल 100 और बाइक का सहारा लिया।

- मरीजों को देखने कलेक्टर तेजस्वी नायक, विधायक रमेश पटेल और कांग्रेस कार्यकर्ता पहुंचे। सिविल सर्जन डॉ. अनिता सिंगारे ने डॉक्टरों की टीम बुलाकर मरीजों का इलाज शुरू कराया। वार्डों से लेकर बरामदे तक मरीजों को भर्ती किया गया। देर शाम तक स्थिति काबू में आई। कलेक्टर ने नपा अौर पुलिस जवानों को व्यवस्थाएं संभालने के लिए तैनात किया।

ये मिलाकर बनाई गई थी खिचड़ी और मिठाई
- साबुदाने, आलू, मूंगफली, शकरकंद को मिलाकर खिचड़ी बनाई गई थी। मिठाई आलू और शकर से बनाई गई थी। बताया जा रहा है कि एक दिन पहले ही प्रसादी बनाने को लेकर तैयारी की जा चुकी थी। रात से ही प्रसादी बनाने का काम शुरू हो गया था।


25 साल से बंट रही खिचड़ी, कभी ऐसा नहीं हुआ
- आयोजनकर्ताओं ने बताया आश्रम में सभी हिंदू पर्व पर प्रसादी का वितरण किया जाता है। 25 साल से यहां पर शिवरात्रि पर्व पर खिचड़ी की प्रसादी बांटी जाती थी। ऐसा पहले कभी नहीं हुआ। वहीं हर साल हनुमान जयंती पर पांच दिन तक भंडारा चलता है। इस आयोजन में भी कभी ऐसी समस्या नहीं आई। इस बार ऐसा कैसे हुआ कुछ पता नहीं।

तेल खराब होने की आशंका
- जिला अस्पताल में भर्ती मरीज सहित अन्य लोगों ने आशंका जताई है कि तेल के कारण लोगों को उल्टी और पेटदर्द हो रहा है। खिचड़ी और मिठाई के सैंपल लिए हैं।
आज आ जाएगी रिपोर्ट
- कलेक्टर के मुताबिक, स्थिति काबू में है। साबुदाने की खिचड़ी और मिठाई खाने से उल्टी की शिकायत हुई है। अधिकारियों को मौके पर भेजकर सैंपल लिए हैं। रिपोर्ट बुधवार तक आ जाएगी।

9 बजे से दोपहर 3 बजे तक श्रद्धालुओं को खिचड़ी बांटी। इस दौरान एक साथ ज्यादा लोगों को बीमार होते देख प्रसादी का वितरण बंद किया गया। 9 बजे से दोपहर 3 बजे तक श्रद्धालुओं को खिचड़ी बांटी। इस दौरान एक साथ ज्यादा लोगों को बीमार होते देख प्रसादी का वितरण बंद किया गया।
देर शाम तक स्थिति काबू में आई। कलेक्टर ने नपा अौर पुलिस जवानों को व्यवस्थाएं संभालने के लिए तैनात किया। देर शाम तक स्थिति काबू में आई। कलेक्टर ने नपा अौर पुलिस जवानों को व्यवस्थाएं संभालने के लिए तैनात किया।