Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» Good News: Assistant Professor & State And Forest Service Recruitment

खुशखबरी: असिस्टेंट प्रोफेसर के 2968, राज्य और वन सेवा के 308 पदों पर निकली भर्ती

मप्र लोक सेवा आयोग (पीएससी) ने असिस्टेंट प्रोफेसरों के कुल 2968 पद भरने के लिए विज्ञापन जारी किया है।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 13, 2017, 06:51 AM IST

  • खुशखबरी: असिस्टेंट प्रोफेसर के 2968, राज्य और वन सेवा के 308 पदों पर निकली भर्ती

    इंदौर.मप्र लोक सेवा आयोग (पीएससी) ने असिस्टेंट प्रोफेसरों के कुल 2968 पद भरने के लिए विज्ञापन जारी किया है। इनके अलावा राज्य प्रशासनिक सेवा के 202 और राज्य वन सेवा के 106 पदों पर भी भर्तियां निकाली हैं। सरकार का दावा है कि नए शैक्षणिक सत्र तक खाली पदों पर भर्ती की जाएगी। आयोग ने 2014 में भी असिस्टेंट प्रोफेसरों की भर्ती के लिए विज्ञापन जारी किया था। करीब 60 हजार लोगों ने आवेदन किया था, लेकिन तकनीकी कारणों से इसे रद्द कर दिया। वर्ष 2015 में फिर से आवेदन बुलवाए गए। करीब 48 हजार लोगों ने आवेदन किया लेकिन यह भी निरस्त हो गई, क्योंकि स्टेट एलिजिबिलिटी टेस्ट करवाने की मांग की गई।

    - विरोध के बाद सरकार ने 2017 में सेट करवाई, जिसका परिणाम चार महीने पहले ही आया। इन पदों के लिए करीब एक लाख लोग आवेदन कर चुके हैं।

    - इस बार राहत की बात यह है कि कोई तकनीकी कारण आड़े नहीं आ रहा है। आवेदन के बाद परीक्षा की तारीख घोषित की जाएगी।

    - स्क्रूटनी आदि के बाद प्रक्रिया आगे बढ़ेगी। अधिकारियों का कहना है कि जुलाई 2018 के पूर्व इन खाली असिस्टेंट प्रोफेसरों के पदों पर भर्ती हो जाएगी।


    प्री एक्जाम 18 फरवरी को
    - राज्य सेवा के लिए 202 पद व वन सेवा के लिए 106 पद हैं। आवेदन की अंतिम तारीख 8 जनवरी है। प्रारंभिक परीक्षा 18 फरवरी को होगी। असिस्टेंट प्रोफेसर के लिए आवेदन की अंतिम तारीख 24 जनवरी है। इसकी परीक्षा की तारीख घोषित नहीं की गई है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Indore News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Good News: Assistant Professor & State And Forest Service Recruitment
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×