Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» Goondas Threatened Traders For One To 3 Lakh

गुंडों ने फिर व्यापारियों को धमकाया एक से 3 लाख मांगे, दूसरे के बिल छीने

गुंडे ने पिस्टल अड़ा दी, पुलिस ने कहा- शिकायत ही नहीं की।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 17, 2017, 07:15 AM IST

  • गुंडों ने फिर व्यापारियों को धमकाया एक से 3 लाख मांगे, दूसरे के बिल छीने
    +1और स्लाइड देखें

    इंदौर। सियागंज में व्यापारी को धमकाने के बाद एमजी रोड और चंदन नगर क्षेत्र में दो और व्यापारियों को धमकाने के मामले सामने आए हैं। एमजी रोड के स्नेहलतागंज स्थित एक इलेक्ट्रॉनिक दुकान के संचालक को एरोड्रम क्षेत्र के कुख्यात गुंडे अल्पेश चौहान के भाई ने धमकाया। वहीं, छत्रीबाग निवासी व्यापारी ने शिकायत की है कि अफजल नामक बदमाश ने दो साथियों के साथ उसे धमकाया। पिस्टल अड़ाकर कहा तीन लाख नहीं दोगे तो बच्चों का अपहरण कर लेंगे।

    सिपाही के साथ आया और बिना पूछे दुकान में घुसा
    - स्नेहलतागंज में यूटीएन इलेक्ट्रॉनिक्स दुकान संचालक नीलेश मालवीय ने बताया कि दोपहर 3 से 4 बजे के दरमियान गुंडे अल्पेश का भाई अरुण चौहान एमजी रोड थाने के सिपाही जवाहर जादौन और दो अन्य लोगों के साथ दुकान पर आया। सभी बिना पूछे अंदर घुस गए और बोले कि जो इलेक्ट्रॉनिक्स का सामान खरीदा है उसका जीएसटी रिटर्न नहीं भरा।

    - धमकाकर ड्रॉज खोलकर उसमें रखी बिल बुक और रिटर्न की फाइलें भी वे उठाकर ले गए। उन्होंने इसकी शिकायत पुलिस अधिकारियों से की है। वहीं एमजी रोड थाना प्रभारी अनिल यादव ने बताया प्रदीप गुर्जर नामक व्यक्ति ने खुद को पत्रकार बताते हुए शिकायत की थी कि व्यापारी नीलेश मालवीय 600 रुपए में एलईडी, मिक्सर ग्राइंडर, मोबाइल बेच कर लोगों से धोखाधड़ी कर रहा है। हमने जवान जवाहर सिंह जादौन को भेजा था। उसके साथ गुंडे अल्पेश का भाई अरुण कैसे पहुंचा इसकी हमें जानकारी नहीं है। एसपी अवधेश गोस्वामी ने जांच के आदेश दिए हैं।


    चौकी, सहायता केंद्र है लेकिन पुलिस रहती है गायब
    - सियागंज में रोजाना हजारों लाखों रुपए लेकर व्यापारी व्यापार के लिए पहुंचता है। शाम को दिनभर के व्यापार की सिल्लक लेकर घर लौटते हैं। ऐसे में कई बदमाश और नशा करने वाले गुंडे उन्हें रेकी कर टारगेट करते हैं।

    - पूर्व में हुए गोलीकांड घटनाओं के बाद व्यापारियों के विरोध पर सियागंज में पुलिस चौकी भी खोली गई थी, लेकिन यहां पुलिस ही नहीं दिखती। नाम नहीं छापने की शर्त पर कई व्यापारियों ने तो ये भी कहा कि वे पुलिस और कोर्ट के चक्कर में पड़ने से बचने के लिए कई गुंडों को रुपए देकर तनाव नहीं लेते। कई तो घटना का शिकार होने के बाद भी पुलिस के रवैए के कारण रिपोर्ट नहीं लिखवाते। इधर पुलिस अधिकारी कहते हैं कि शिकायत ही नहीं मिलती तो कार्रवाई कैसे करें?

    व्यापारी से कहा- तीन लाख नहीं दिए तो बच्चों को अगवा कर लेंगे
    - सियागंज में व्यापारी धीरज खंडेलवाल को धमकाकर पांच लाख रुपए की प्रोटेक्शन मनी मांगने वाले गुंडे नरेंद्र वर्मा की संपत्ति की जानकारी पुलिस ने जुटाना शुरू कर दी है। टीआई कर्णिय सिंह शक्तावत ने बताया कि गुंडे का मकान यदि अवैध पाया जाएगा तो उसे तुड़वाएंगे। वहीं उसके खिलाफ बदनावर में भी एक केस दर्ज होना पता चला है। बदनावर पुलिस को भी प्रतिवेदन भेजकर उसकी जानकारी ली जा रही है।

  • गुंडों ने फिर व्यापारियों को धमकाया एक से 3 लाख मांगे, दूसरे के बिल छीने
    +1और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Indore News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Goondas Threatened Traders For One To 3 Lakh
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×