--Advertisement--

हाईस्कूल परीक्षाएं शुरू, प्रदेश के 11 लाख 50 हजार से अधिक छात्र दे रहे परीक्षा

परीक्षा का समय सुबह 9 से दोपहर 12 बजे तक रखा गया है।

Dainik Bhaskar

Mar 05, 2018, 11:44 AM IST
Higher school exams begin, more than 11 lakh 50 thousand students giving exam

इंदौर। मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल (मप्र माशिमं) की हाईस्कूल परीक्षाएं सोमवार से शुरू हो गई। 11 लाख 50 हजार से ज्यादा छात्र इस परीक्षा में शामिल हो रहे है। वहीं इंदौर जिले में 48 हजार 401 छात्रों द्वारा 10वीं की परीक्षा दी जा रही है। परीक्षा का समय सुबह 9 से दोपहर 12 बजे तक रखा गया है। सोमवार को सुबह 7.30 बजे से ही छात्र अपने-अपने परीक्षा केन्द्रों पर पहुंचने प्रारंभ हो गए थे। माध्यमिक शिक्षा मंडल ने परीक्षार्थियों को पहले ही निर्देश दिए थे कि सुबह 8.45 बजे के बाद परीक्षा कक्ष में प्रवेश नहीं दिया जाएगा।

- सोमवार को तीसरी भाषा जिसमें संस्कृत, उर्दू, मराठी, बंगाली, गुजराती, तेलगू, तमिल, पंजाबी, सिंधी, मलयालम, पर्शियन, अरेबिक, फ्रेंच, रशियन, कन्नड़ और उड़िया विषय शामिल है। इसका पेपर संपन्न हुआ। परीक्षा शुरू होने के 10 मिनट पहले उत्तर पुस्तिका और पांच मिनट पहले प्रश्न-पत्र का वितरण किया गया।

- इंदौर जिले में परीक्षा के लिए 129 केन्द्र बनाए गए है। हाई स्कूल परीक्षा में इंदौर जिले में कुल 48 हजार 401 परीक्षार्थी शामिल हो रहे है। इसमें 38 हजार 868 नियमित आौर 9 हजार 533 प्रायवेट परीक्षार्थी शामिल है।

- जिला शिक्षा अधिकारी सुधीर कौशल के अनुसार परीक्षा को लेकर सभी केन्द्रों पर सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम किए गए है। इंदौर जिले में 19 परीक्षा केन्द्र संवेदनशील है, इन केन्द्रों पर दो अॉब्जर्वर नियुक्त किए गए है। इसके साथ ही प्रशासनिक अधिकारियों के 30 दलों का गठन किया गया है जो सभी केन्द्रों पर निगरानी रख रहा है। उड़नदस्ते में शामिल अधिकारी भी परीक्षा कक्ष में मोबाइल लेकर प्रवेश नहीं कर सकेंगे।

शिक्षा माफिया हुए सक्रिय

परीक्षा प्रारंभ होते ही शिक्षा माफिया सक्रिय हाे गए है। जानकारी के अनुसार इन माफियाओं ने परीक्षा केन्द्रों पर अपने मुखबिर लगा रखे है, ताकि उड़नदस्ते के आने की जानकारी इन माफियाओं तक पहुंच सके। जिला शिक्षा अधिकारी के अनुसार कुछ केन्द्रों पर उड़नदस्तों के अलावा अलग से भी निगरानी करवाई जा रही है। सुरक्षा के लिए सभी केन्द्रों पर पुलिस की तैनाती भी करवाई गई है।

परीक्षा में नकल करते 5 मुन्नाभाई धराए

- माशिमं की परीक्षा शुरू होते ही मुन्नाभाई भी सक्रिय हो गए हैं। मुरैना में सोमवार सुबह 10वीं के पहले पेपर के दौरान कलेक्टर ने पांच मुन्नाभाइयों को पकड़ा। कलेक्टर सुबह संस्कृत और उर्दू के पेपर के दौरान बाबा बालकदास हायर सेकेंडरी स्कूल में निरीक्षण के लिए पहुंचे थे। चेकिंग के दौरान उन्हें पांच बच्चे संदिग्ध लगे। इसके बाद कलेक्टर ने उन्हें पकड़ लिया।

सोशल मीडिया पर आए पेपर से मचा था हड़कंप

- 1 मार्च को माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा आयोजित बारहवीं बोर्ड की परीक्षा में पहला पेपर हिंदी विशिष्ट का था। पहले पेपर को लेकर भी सोशल मीडिया पर एक पेपर वायरल हुआ था। पहला पेपर आउट होने की खबर के बाद हड़कंप मच गया था। हालांकि बाद में पेपर मिलान करने पर यह फेक पेपर निकला था।

पेपर के पहले जूते तक उतरवाए

- इस वर्ष पेपर को लेकर काफी सख्ती बरती जा रही है। परीक्षा केंद्र पर दाखिल होने से पहले परीक्षार्थियों को जूते-मोजे तक उतारने पड़ रहे हैं। इसके अलावा किसी भी प्रकार की इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस ले जाना भी पूर्णत: प्रतिबंधित है।

दिव्यांग और मूक बधिर के लिए अलग व्यवस्था

- सुबह 9 बजे से दोपहर 12 बजे तक हाेने वाली इस परीक्षा में इस बार मूक-बधिर और दिव्यांग छात्रों के लिए परीक्षा समय अलग रखा गया है। इनके लिए परीक्षा का समय दोपहर 1 से शाम 4 बजे तक रखा गया है। इसके अलावा इनके लिए विशेष व्यवस्था भी की गई है। इस बार समय का भी विशेष ध्यान रखा गया है।

X
Higher school exams begin, more than 11 lakh 50 thousand students giving exam
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..