Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» Husband Was Hiding The First Marriage Hence Decided To Retire

पति ने छुपाई थी पहली शादी, बोलीं- पत्नी का दर्जा ही नहीं, अब क्यों जता रहे हक

राशनकार्ड में पत्नी की जगह किसी और का था नाम, इसलिए ऋतु को आया दीक्षा का ख्याल।

शरद गुप्ता. | Last Modified - Feb 14, 2018, 04:27 AM IST

पति ने छुपाई थी पहली शादी, बोलीं- पत्नी का दर्जा ही नहीं, अब क्यों जता रहे हक

नागदा (इंदौर).पालिताणा गुजरात में 22 अप्रैल को दीक्षा लेने की घोषणा करने वाली नागदा की ऋतु को पति टार्चर करता था। इसकी वजह पति भेरूलाल की पहले से एक पत्नी होना बताया गया है। दरअसल, इस व्यक्ति ने ऋतु को धोखे में रख दूसरी शादी की थी। विरोध किया तो प्रताड़ित किया जाने लगा। 15 साल अत्याचार करता रहा फिर तलाक देने का फैसला कर लिया। एडीजे कोर्ट में ये प्रूफ हुआ है कि, नपा से जारी राशन कार्ड में पत्नी ऋतु की जगह किसी राधा नाम की महिला और तीन बच्चों का नाम दर्ज है। 8 मार्च 2017 को कोर्ट के फैसले में भी तलाक का मजबूत आधार भेरूलाल का दूसरी शादी होना ही बताया गया है। नोटिस मुझे शाम काे मिला....

-जैन समाज श्रीसंघ अध्यक्ष के मुताबिकस ऋतु के पहले पति भेरूलाल का नोटिस 11 फरवरी की रात उनके भाई ने रिसीव किया था।

- वे एक प्रोग्राम में शहर से बाहर था। भाई ने नोटिस 12 फरवरी की शाम को दिया, जबकि वरघोड़ा सुबह निकल गया था।

- जैन समाज वेट एंड वॉच की स्थिति में- मामले में जैन श्रीसंघ ने स्थिति स्पष्ट नहीं कि है। वे वेट एंड वॉच की स्थिति में है।

- समाज के लोग भी मामले पर नजर रखे हैं। ऐसे में यह स्पष्ट नहीं कि आगे क्या होगा....क्या ऋतु संन्यास ले पाएगी...?


15 साल बर्दाश्त किया, अब सांसारिक मोह छोड़ चुकी हूं
- ऋतु का दर्द यह है कि उसकी शादी 1999 में भेरूलाल से हुआ था। डेढ़ साल बाद उसे पता चला कि वह तो दूसरी पत्नी है। विरोध किया तो मेरी पिटाई की गई, दुत्कारी गई।

- 15 साल बर्दाश्त किया, लेकिन हद तो तब हुई जब राशनकार्ड में उसे पत्नी नहीं बताया गया। पत्नी के रूप में मेरा अस्तित्व भी नहीं।

- अब जब मैं इन सबसे बाहर आ गई हूंं... सांसारिक जीवन से मुझे कोई मोह नहीं है, तो मुझे अब पत्नी कहकर क्यों पुकारा जा रहा है।


पति ने ली आपत्ति, कहा- तलाक का एकपक्षीय फैसला
- 22 अप्रैल को ऋतु के संन्यास के फैसले पर पूर्व पति भेरूलाल को आपत्ति है। उसने श्रीसंघ अध्यक्ष को भेजे नोटिस में ये आपत्ति ली है कि तलाक का फैसला एकपक्षीय था, जिस पर विचारण के लिए उसने न्यायालय को आवेदन दिया है।

- 15 फरवरी को ही पेशी है। कोर्ट में मामला है। ऋतु उनकी पत्नी है। 16 साल का एक बेटा धर्मेश है। जो नाबालिग है। धर्मेश का कहना है तलाक मां और पापा के बीच हुआ है। मैं तो मां के साथ रहना चाहता हूं। मैं कहा जाऊं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Indore News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: pti ne chhupaaee thi pehli shaadi, bolin- patni ka drjaa hi nahi, ab kyon jtaa rahe hk
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×