--Advertisement--

पशुपतिनाथ मंदिर में 2100 रुपए में भोग के साथ अभिषेक कर सकें, फैसला आज

पशुपतिनाथ मंदिर प्रबंध समिति की बैठक 28 दिसंबर दोपहर 4 बजे कलेक्टोरेट में होना है।

Danik Bhaskar | Dec 28, 2017, 07:28 AM IST

मंदसौर (इंदौर). पशुपतिनाथ मंदिर प्रबंध समिति की बैठक 28 दिसंबर दोपहर 4 बजे कलेक्टोरेट में होना है। इसमें पूजा विधि में बदलाव की तैयारी की जा रही है। समिति ने 27 नवंबर को भगवान को भोग लगाने के लिए 2100 रुपए तय किए थे। तब से अब तक एक महीने में इस व्यवस्था में 26 लोगों ने ही रुचि दिखाई। इसको देखते हुए अब लोगों को मंदिर की तरफ आकर्षित करने के लिए समिति ने 2100 रुपए में भोग के साथ अभिषेक व पूजन सामग्री भी देने का प्रस्ताव रखा है। इस पर गुरुवार को बैठक में निर्णय होना है। कुछ लोगों ने भगवान की नि:शुल्क सेवा करने का प्रस्ताव समिति को दिया है, जिस पर भी विचार होगा।


- पशुपतिनाथ मंदिर की प्रबंधन समिति ने 27 नवंबर को मंदिर की व्यवस्थाओं में बदलाव करते हुए गर्भगृह में रेलिंग के अंदर प्रवेश पर प्रतिबंध लगाया था। वहीं पूजा विधि में बदलाव करते हुए भोग की सुविधा शुरू की थी। इसमें कोई भी भक्त 2100 जमा कराकर पशुपतिनाथ को भोग लगा सकता है।

- इसके अतिरिक्त पशुपतिनाथ के अभिषेक के लिए 500 रुपए की रसीद कटवाना होती है। अब मंदिर प्रबंधन समिति दोबारा पूजा विधि में बदलाव करने जा रही है। 28 दिसंबर को कलेक्टोरेट में होने वाली मंदिर समिति की बैठक में प्रस्ताव को भी शामिल किया है। अब भक्तों को 2100 रुपए की रसीद में ही पशुपतिनाथ का अभिषेक कर भोग लगाने एवं शुद्ध पूजन सामग्री भी समिति द्वारा ही उपलब्ध कराई जाएगी।

- सूत्रों के अनुसार तो इस निर्णय पर सभी सदस्यों की सहमति भी बन गई है केवल गुरुवार को बैठक में निर्णय को पास करने की औपचारिकता बाकी रह गई है। इससे मंदिर की आय में भी वृद्धि होगी व भक्तों भी कम राशि में अभिषेक व भोग लगाने का लाभ मिलेगा।

नि:शुल्क अभिषेक व शृंगार का भी दिया आवेदन
- मंदिर समिति द्वारा गर्भगृह में लगी रेलिंग के अंदर पुजारी के अतिरिक्त अन्य व्यक्तियों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाए जाने से भक्त मूर्ति तक नहीं पहुंच पा रहे हैं। ऐसे में अब दशरथ माली एवं श्याम पांडेय ने भगवान का अभिषेक व शृंगार नि:शुल्क करने के लिए समिति को आवेदन दिया है। इस पर भी बैठक में सदस्यों द्वारा विचार किया जाएगा।

पुराने प्रस्तावों के पालन प्रतिवेदन पर रहेगी नजर
- इसके साथ बैठक में पुराने प्रस्तावों के पालन प्रतिवेदन पर चर्चा होगी। जूता स्टैंड को व्यवस्थित करने, कुछ दुकानदारों द्वारा दो दुकान को एक करने के लिए सहमति मांगी गई जिस पर भी विचार होगा।

- मंदिर समिति सचिव व एसडीएम शिवलाल शाक्य ने बताया कि बैठक 28 दिसंबर को दोपहर 4 बजे कलेक्टोरेट में होगी। समिति सदस्यों को प्रारूप पहुंचा दिया है। बैठक में पूर्व में लिए गए निर्णयों पर कितनी कार्रवाई हुई इस पर भी चर्चा की जाएगी।