--Advertisement--

इंदौर हादसा: गुस्साए पैरेेंट्स ने डीपीएस की वाइस प्रिंसिपल को जड़ा चांटा

डीपीएस बस हादसे में चार बच्चों की मौत पर पालकों का सब्र मंगलवार को फिर जवाब दे गया।

Dainik Bhaskar

Jan 17, 2018, 04:37 AM IST
Indore accident: angry patrons turn up to Vice Principal of DPS

इंदौर. डीपीएस बस हादसे में चार बच्चों की मौत पर पालकों का सब्र मंगलवार को फिर जवाब दे गया। कलेक्टोरेट में मजिस्ट्रियल जांच में पहुंचे पालक प्रिंसिपल सुदर्शन सोनार को देखते ही बिफर गए और उन्हें घेर लिया। नैतिक आधार पर इस्तीफा देने और घटना के लिए माफी मांगने की मांग की। बोले इतनी महंगी फीस देने के बाद भी आप बसें ठीक नहीं रख पाए। इसका खामियाजा हमारे बच्चों को जान देकर चुकाना पड़ा। कुछ पालक तो रोने लगे और प्रिंसिपल से कहा कि सर, हमारे बच्चों की आखिर क्या गलती थी? उनकी जान क्यों चली गई? हम तो आपकी फीस का पूरा पैसा दे रहे थे।

बसें बदलने का हवाला देकर बचाव करते रहे प्रिंसिपल
- प्रिंसिपल ने जवाब में यही कहा कि मैं अपना काम कर रहा हूं। हमने 40 से ज्यादा बसें बदल दी हैं। इस पर पालकों ने कहा कि यह सब झूठ है। जिस बस का एक्सीडेंट हुआ, वह महाराष्ट्र से आई थी और दो बार बिकने के बाद स्कूल ने तीसरी बार खरीदी थी।

- आप ध्यान देते तो न अनफिट बस चल रही होती और न बच्चों के जान गंवाना पड़ती। पालकों का गुस्सा बढ़ने लगा तो एसडीएम श्रृंगार श्रीवास्तव व संदीप सोनी ने पुलिस और होमगार्ड जवानों की सुरक्षा के बीच प्रिंसिपल को कलेक्टोरेट से निकाला।

स्कूल वाहनों की सघन जांच और बच्चों के नाम पर अवॉर्ड शुरू करने का सुझाव

- जनवरी का पहला सप्ताह स्कूल बस, वैन, ऑटो के लिए यातायात सुरक्षा के रूप में हो। सभी वाहनों की सघन जांच की जाए।
- सभी स्कूलों में चुनी गई पालक यूनियन बने, जो प्रबंधन को खामियां बताए।
- स्कूल प्रबंधन के खिलाफ शिकायत के लिए कॉमन सेल बने, जहां कंट्रोल रूम पर इनके खिलाफ शिकायत की जाए।
- स्कूल बस की तेज ड्राइविंग को लेकर शिकायत नंबर हो। शिकायत के बाद क्या कार्रवाई हुई, यह भी बताया जाए।
- जागरूक इंदौर पोर्टल जल्द शुरू हो, जिससे पालकों को अलर्ट मिलीे। ऐसी जीपीएस डिवाइस भी हो जिसमें पालकों को बच्चों की लोकेशन पता चलती रहे।
- जान गंवाने वाले बच्चों के नाम पर अवाॅर्ड शुरू किए जाएं, ताकि उनकी याद रहे। सुरक्षा का भी ख्याल रहे।

इंसाफ नहीं मिलने पर 22 के बाद भूख हड़ताल करने की चेतावनी
- मजिस्ट्रियल जांच कर रहीं अपर कलेक्टर रुचिका चौहान के सामने 250 से ज्यादा पालक व आमजन शिकायत, सुझाव और मांग लेकर पहुंचे। इन्होंने कहा बस हादसे में स्कूल प्रबंधन और प्रिंसिपल के खिलाफ गैर इरादतन हत्या और हत्या का केस दर्ज करना चाहिए।

- प्रबंधन पर मानसिक रूप से प्रताड़ित करने और धमकाने का भी केस दर्ज किया जाए। 22 जनवरी को आने वाली जांच रिपोर्ट में हमें इंसाफ नहीं मिला तो भूख हड़ताल शुरू करेंगे। कुछ पालकों ने स्कूल बंद करने की मांग की।

Indore accident: angry patrons turn up to Vice Principal of DPS
X
Indore accident: angry patrons turn up to Vice Principal of DPS
Indore accident: angry patrons turn up to Vice Principal of DPS
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..