Hindi News »Madhya Pradesh »Indore »News» Mandsaur Shootout: If The Police Does Not Take Strong Steps

मंदसौर गोलीकांड: ​पुलिस कड़ा कदम नहीं उठाती तो फिज़ा और बिगड़ सकती थी

आंदोलनकारियों को खूब समझाया था। पुलिस कड़ा कदम नहीं उठाती तो फिज़ा और बिगड़ सकती थी।

Bhaskar News | Last Modified - Dec 28, 2017, 06:39 AM IST

  • मंदसौर गोलीकांड: ​पुलिस कड़ा कदम नहीं उठाती तो फिज़ा और बिगड़ सकती थी

    इंदौर.मंदसौर किसान आंदोलन के दौरान हुए गोलीकांड की जांच कर रहे जस्टिस जरतकुमार जैन के समक्ष बुधवार को 22 गवाहों के बयान हुए, जिसमें उन्होंने कहा कि गोलीकांड के तीन दिन पहले से आंदोलन शुरू हो गया था और घटना के पहले पुलिस ने आंदोलनकारियों को खूब समझाया था। पुलिस कड़ा कदम नहीं उठाती तो फिज़ा और बिगड़ सकती थी।

    - जस्टिस जे.के. जैन की एक सदस्यीय जांच आयोग के समक्ष मंगलवार के बाद बुधवार को भी सुनवाई हुई। जांच आयोग ने आमजनों से शपथ पत्र के साथ पक्ष रखने को कहा था। मप्र शासन द्वारा इस मामले में विशेष रूप से एंगेज हाईकोर्ट इंदौर के सीनियर एडवोकेट अविनाश सिरपुरकर, उदयप्रताप सिंह कुशवाह एवं अमीन पटेल ने सभी 22 गवाहों के क्रॉस (प्रति परीक्षण) किए।

    - सभी गवाहों ने आयोग के समक्ष पूर्व में भी शपथ पत्र प्रस्तुत कर दिए थे। इसमें उन्होंने अपनी संपत्ति, धन हानि के साथ ही यह भी कहा है कि गोलीकांड 6 जून 2017 को हुआ था। उसके तीन दिन पहले 3 जून से किसानों ने आंदोलन शुरू कर दिया था। कमोबेश सभी शपथकर्ताओं ने कहा कि भारी भीड़ ने घटना के दिन पिपलिया मंडी थाने का घेराव और पथराव के साथ ही तोड़फोड़ की।

    - कई के पास पेट्रोल की केन भी मिली थी। घटना के दौरान कई दुकानों और मकानों को भारी क्षति हुई थी। कई ट्रकों में आग लगा दी थी। सीनियर एडवोकेट सिरपुरकर के मुताबिक गवाहों ने इस बात को माना कि 6 जून को हुए गोलीकांड के पहले 3 जून से आंदोलन शुरू हुआ और पहले ही दिन से पुलिस ने आंदोलनकारियों को समझाया था। आयोग की अगली सुनवाई 8,9,10 जनवरी 2018 को होगी।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Indore News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Mandsaur Shootout: If The Police Does Not Take Strong Steps
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From News

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×