--Advertisement--

8 साल की बच्ची से रेप, दादी के साथ गई रिर्पोट लिखाने तो पुलिस लगवाती रही थानों के चक्कर

ओंकारेश्वर में 8 साल की बच्ची से 25 वर्षीय युवक द्वारा जंगल में दुष्कर्म की कोशिश का मामला सामने आया है।

Danik Bhaskar | Dec 10, 2017, 07:51 AM IST

ओंकारेश्वर(इंदौर)। ओंकारेश्वर में 8 साल की बच्ची से 25 वर्षीय युवक द्वारा जंगल में दुष्कर्म की कोशिश का मामला सामने आया है। घबराई बच्ची से परिजन ने पूछा तब उसने यह बात बताई। इसके बाद पीड़िता व उसकी दादी रिपोर्ट दर्ज करवाने के लिए तीन दिन तक थाने के चक्कर लगाते रहे, लेकिन पुलिस वाले उनकी बात सुनने के बजाय टरकाते रहे। दबाव बढ़ा तो पुलिस ने मामले में शिकायत दर्ज की।

जब दबाव बना तब पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार

- बताया जा रहा है जो पुलिस रिपोर्ट भी दर्ज नहीं कर रही थी, दबाव बढ़ते ही उसने शनिवार को ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। गौरतलब है कि दुष्कर्म के प्रकरण में फांसी देने की सजा का विधेयक विधानसभा में पारित होने के बाद जिले का यह पहला मामला है।

- पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक 8 वर्षीय बालिका मंगलवार को स्कूल में थी। पड़ोस में रहने वाला 25 वर्षीय आरोपी अर्जुन पिता रतन ने उसे स्कूल से बुलाया और जंगल ले गया। दुष्कर्म करने की कोशिश की। शाम को ही उसके घर छोड़ गया। रात में बालिका नींद में डर रही थी। काका छोड़ दो..काका छोड़ दो.बड़बड़ा रही थी।

दादी ने जब देखी बच्ची की हालत तो हुआ शक

- दादी ने बालिका को देखा तो उसे शंका हुई। उसने पूछा तो बालिका ने उसके साथ हुई वारदात की पूरी जानकारी दी। दूसरे दिन बुधवार सुबह बालिका की दादी ओंकारेश्वर पुलिस थाने गई। यहां जाकर घटना की जानकारी देना चाही। पुलिस थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों ने उसे वापस लौटा दिया।

- घटना के तीसरे दिन शुक्रवार दादी ने घटना की जानकारी स्थानीय क्षेत्रीय पार्षद कैलाश बावनिया तथा स्थानीय पत्रकारों को दी। उन्होंने पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन को घटना के संबंध में फोन से जानकारी दी। इसके बाद पुलिस हरकत में आई।

- स्थानीय पुलिस ने शनिवार को पीड़ित बच्ची और उसके पिता को पुलिस थाने बुलवाया। बालिका का बयान दर्ज किया। थाना प्रभारी ने आरोपी अर्जुन के माता-पिता को बुलाकर आरोपी के बारे में पूछताछ की है। दबाव के बाद पुलिस जांच कर रही है।

थाना प्रभारी ने बताया
- थाना प्रभारी आरएनएस भदोरिया ने बताया कि आरोपी अर्जुन के खिलाफ अपराध क्रमांक 333, धारा 363,66, 376 और पास्को एक्ट 3/4 लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण, एसटी, एससी एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज किया है। घटना 5 दिसंबर की है।

- आरोपी अर्जुन बालिका को अपने भतीजा-भतीजी से मिलवाने के बहाने जंगल की ओर ले गया। कपड़े उतार कर दुष्कर्म करने का प्रयास करने लगा। इसके बाद बालिका चिल्लाई। इससे डरकर आरोपी बालिका को घर छोड़कर भाग गया। प्रकरण दर्ज कर लिया है। जल्दी ही आरोपी को गिरफ्तार कर लेंगे।


बालिका की मां की हो चुकी मौत
पीड़ित बालिका की मां की मौत कुछ साल पहले हो गई है। यह पिता और दादी के साथ रह रही है। रोज स्कूल जाती है। वारदात के बाद से परेशान है।