--Advertisement--

नर्सें हड़ताल पर, एमवाय में नहीं हुए ऑपरेशन, टीकाकरण और कीमोथैरेपी में परेशानी

एमवाय सहित मेडिकल कॉलेज से संबद्ध करीब सात सौ नर्सें सोमवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चली गईं।

Danik Bhaskar | Jan 16, 2018, 06:28 AM IST

इंदौर. समान वेतनमान व अन्य मांगों को लेकर एमवाय सहित मेडिकल कॉलेज से संबद्ध करीब सात सौ नर्सें सोमवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चली गईं। अधिकारी दावा करते रहे कि व्यवस्थाएं प्रभावित नहीं हुईं। हालांकि चाचा नेहरू अस्पताल में टीकाकरण प्रभावित हुआ। एमवाय में नियमित ऑपरेशन नहीं किए गए। एंडोस्कोपिक ओटी बंद रहा। शासकीय कैंसर हॉस्पिटल में भी कीमोथैरेपी का काम बाधित हुआ।

- ओपीडी, इमरजेंसी, वार्ड सहित अन्य जगह पर नर्सिंग स्टाफ, सीनियर नर्सेंस और परीवीक्षा अवधि के स्टाफ से काम लिया गया। प्रशिक्षित स्टाफ नहीं होने से कई वार्डों में व्यवस्थाएं प्रभावित हुईं। नर्सेस एसोसिएशन के जिलाध्यक्ष सोहनलाल शर्मा ने बताया हम लंबे समय से मांग सभी मंचों पर रख चुके हैं, पर सुनवाई नहीं हो रही है।

इसलिए नर्सिंग स्टाफ कर रहा हड़ताल

- एक समान काम के बावजूद कई स्तरों पर एक ही संस्था में असमान वेतन दिया जा रहा है। जूनियर स्टाफ को अधिक वेतन मिल रहा है। सातवें वेतनमान के अलावा 10, 20 और 30 साल की सेवा पूरी करने वाली नर्सों को समयमान वेतनमान का लाभ दिया जाए।

50 सीनियर नर्स और नर्सिंग छात्राओं से लिया काम

- एमवाय धीक्षक डॉ. वीएस पाल ने बताया कि सीनियर नर्सिंग स्टाफ हड़ताल पर नहीं गया था। करीब 50 सीनियर नर्सों ने काम किया। नर्सिंग कॉलेज की छात्राओं की ड्यूटी लगा दी थी। किसी प्रकार की समस्या नहीं आई। ओटी, आईसीयू में रोज की तरह काम किया गया।

संचालक बोले- काम पर नहीं लौटें तो कार्रवाई करें

- संचालक चिकित्सा शिक्षा विभाग ने डीन को पत्र जारी कर कहा कि हड़ताल अवैधानिक है। सीपीएफ व समयमान-वेतनमान आदि मांग का निराकरण डीन स्तर पर करना है। जल्द कार्रवाई करें। इसके बावजूद कोई कर्मचारी हड़ताल पर जाता है तो कार्रवाई की जाए।

नेशनल मेडिकल बिल को लेकर छात्रों ने जताया विरोध

- नेशनल मेडिकल कमीशन बिल के खिलाफ आईएमए कार्यालय में सात मेडिकल कॉलेज के छात्र इकट्ठा हुए और विरोध जताया। एमजीएम मेडिकल कॉलेज, इंडेक्स, आरडी गार्डी मेडिकल कॉलेज, श्री अरबिंदो मेडिकल कॉलेज, अमलतास मेडिकल कॉलेज सहित सात मेडिकल कॉलेजों के 150 से अधिक छात्रों ने बिल की खामियों पर बात करते हुए आंदोलन की रणनीति बनाने की बात कही।