इंदौर

--Advertisement--

जेल के बाहर कांग्रेस नेताओं का हंगामा, आधे घंटे के अल्टीमेटम के बाद पटवारी रिहा

समस्याओं को लेकर धरने पर बैठे विधायक जीतू पटवारी को जेल भेजने के एक दिन बाद मंगलवार को रिहा कर दिया।

Danik Bhaskar

Jan 17, 2018, 04:48 AM IST

इंदौर. पालदा और आसपास क्षेत्र में नर्मदा पानी पहुंचाने व अन्य समस्याओं को लेकर धरने पर बैठे विधायक जीतू पटवारी को जेल भेजने के एक दिन बाद मंगलवार को रिहा कर दिया। रिहाई के लिए कांग्रेस नेताओं ने जिला जेल के गेट के बाहर डेढ़ घंटे तक हंगामा किया। पुलिस-प्रशासन में सुनवाई नहीं हुई तो कांग्रेस नेताओं ने आधे घंटे का अल्टीमेटम दिया। दोपहर में विधायक की रिहाई हुई। कांग्रेस नेताओं ने उनका अनशन तुड़वाया। शाम को कांग्रेसी नगर निगम और प्रशासन पर जमकर बरसे। निर्णय लिया कि जनसमस्याओं को लेकर कांग्रेस 30 जनवरी को निगम में बड़ा प्रदर्शन करेगी।

कांग्रेस नेता बोले : अधिकारी तानाशाह, यह जनता की आवाज को दबाने का प्रयास

- पटवारी की रिहाई के बाद शाम 4 बजे सभी वरिष्ठ नेता पटवारी के साथ प्रेस क्लब पहुंचे। तुलसी सिलावट, अश्विन जोशी, रामेश्वर पटेल, देवेंद्र यादव, सदाशिव यादव, शैलेष गर्ग आदि मौजूद थे।

जीतू पटवारी

- शहर सफाई में नंबर 1 बना, अच्छी बात है। इसमे कांग्रेस पार्टी ने भी सहयोग दिया। नगर निगम शहर के नंबर वन के दोबारा प्रयास के अलावा बाकी कामों पर ध्यान नहीं दे रहा।

नरेंद्र सलूजा

- भाजपा पार्षद ने निगम अधिकारियों की पिटाई की तो कार्रवाई नहीं हुई। लेकिन जनता की आवाज उठाने वाले विधायक को जेल में डाल दिया। यह अधिकारियों की तानाशाही है।

सज्जनसिंह वर्मा : सरकार को अधिकारी चला रहे हैं। वे जनप्रतिनिधि के फोन ही नहीं उठाते।
प्रमोद टंडन : अफसरों की मनमानी है। जनता की आवाज को दबा रहे हैं।

Click to listen..