--Advertisement--

प्रदेश में पहली बार क्रशर, 30 सेकंड में चूरा कर देगी प्लास्टिक की बॉटल

इसके लिए निगम ने नया प्रयोग बुधवार से 56 दुकान पर शुरू किया।

Danik Bhaskar | Dec 28, 2017, 06:36 AM IST

इंदौर. प्लॉस्टिक की बॉटल एक बार उपयोग होने के बाद दूसरी बार उपयोग न हो, इसके लिए निगम ने नया प्रयोग बुधवार से 56 दुकान पर शुरू किया। प्रदेश में अपनी तरह के पहले इस प्रयोग में करीब 10 लाख रुपए लागत से यहां प्लॉस्टिक की बॉटल और पॉलिथीन क्रशर स्थापित किया गया। इसका नाम स्वच्छ भारत मशीन है। मशीन का लोकार्पण महापौर मालिनी गौड़ आैर विधायक महेंद्र हार्डिया ने किया। 56 दुकान व्यापारिक एसोसिएशन के गुंजन शर्मा भी उपस्थित थे।

एक बार में 5 हजार बॉटल की क्षमता

- बॉटल क्रश होने पर निकलने वाले चूरे को पॉलिस्टर कंपनी को दिया जाता है। इससे वह धागा बनाती है।
- प्रतिदिन जितनी बॉटल डलेगी उसका डाटा आ जाएगा। इससे पता चल सकेगा कि शहर में प्रतिदिन कितनी बॉटल इस स्पॉट से डंप हुईं।
- फिलहाल ट्रायल पर है, अच्छा रिस्पांस मिलने पर इसे शहर के अलग-अलग हिस्सों में लगाएंगे।