--Advertisement--

शराब पीने से मना किया तो कट्‌टा अड़ाकर बनाया बंधक, मारपीट की, कान भी काटा

शराब पीने से मना करना एक शख्स के लिए मुसीबत बन गई । आरोपियों ने उसके साथ बेरहमी से मारपीट की।

Danik Bhaskar | Jan 03, 2018, 03:32 AM IST

झाबुआ(इंदौर). शराब पीने से मना करना एक शख्स के लिए मुसीबत बन गई । आरोपियों ने उसके साथ बेरहमी से मारपीट की। इसके बाद कट्‌टा अड़ाकर किडनैप कर लिया। जहां उसका एक कान काट दिया। बाद में पुलिस ने पहुंचकर उसे छुड़ाया और इलाज के लिए अस्पताल लेकर पहुंचे। क्या है मामला...

- मामला सोमवार दोपहर का है। छापरी (रजला) के रहने वाले केरू पिता किलान डामोर पांच साल के अपने नवासे नानगु का इलाज कराने पारा के प्राथमिक हेल्थ सेंटर ले गया था।

- केरू के बेटे दिलीप ने बताया मेरे पिता दोपहर करीब 3 बजे हॉस्पिटल से अपने गांव जाने के लिए बस स्टैंड जा रहे थे। तभी बस स्टैंड के समीप उन्हें सब्बू , मुकेश और नवल , अंतर , जेमाल और के रहने वाले जसोदा और एक अन्य ने उसे रोक लिया।

- ये सभी केरू पर शराब पीने के लिए दबाव डालने लगे। केरू के बार-बार मना करने पर भी नहीं माने। आरोपियों को यह बात इतनी बुरी लगी कि केरू के साथ मारपीट शुरू कर दी। अपने नाना के साथ हो रही मारपीट देख नवासा नानगु यहां से भाग निकला।

- उधर, आरोपी मारपीट के बाद भी नहीं रुके उन्होंने केरू पर कट्‌टा अड़ाया और अपनी मोटरसाइकिल पर बिठाकर पास के गांव ले गए। जहां उसे कि़डनैप कर मारपीट की। आरोपियों ने उसका एक कान भी काट दिया। लात-घूंसों से सीने, पीट, पेट पर वार किया। उसके गुप्तांग पर जमकर लात घुसे बरसाए, जिससे उसकी हालत बिगड़ गई।

पुलिस ने पहुंचाया हॉस्पिटल...

- केरू के नवासे नानबु ने छापरी पहुंचकर मामले की जानकारी अपने मामा दिलीप डामोर को दी। इसके बाद दिलीप और परिवार के लोग चौकी जा पहुंचे और मामले की शिकायत की। इसके बाद पुलिस परिजन के बताए अनुसार रजला दबिश देने पहुंची और केरू को आरोपियों के घर से ढूंढ निकाला। सोमवार शाम करीब 6 बजे गंभीर हालत में उसे पारा के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया। प्राथमिक उपचार के बाद रात में केरू को जिला अस्पताल रैफर कर दिया गया।

शख्स की हालत गंभीर
- जिला अस्पताल में केरू का इलाज चल रहा है। उसकी हालत अभी भी गंभीर बनी हुई है। मारपीट की वजह से वह कुछ समझ नहीं पा रहा। कान पर तीन टांके आए हैं। गुप्तांग पर लात-घूसों के वार की वजह से वह यूरिन नहीं कर पा रहा है। डॉक्टरों के अनुसार एक्सरे की रिपोर्ट आने के बाद आगे का उपचार करेंगे। उधर, आरोपी अब तक पुलिस गिरफ्त से बाहर है।

पुराना विवाद है
- रुपयों के लेन-देन के मामले में पुराना विवाद चल रहा था। हमने केरू से छुड़ाकर अस्पताल में भर्ती कराया है। मामला पंजीबद्ध कर दिया है, आरोपियों की तलाश की जा रही है।