--Advertisement--

BRTS पर निगम के अफसर ने पकड़े मवेशी, दी धमकी तो दूसरे अफसर ने छुड़वाया

गुरुवार शाम 5.30 बजे। बीआरटीएस पर शॉपिंग कॉम्प्लेक्स के सामने दो गायें और एक बछड़ा घूम रहा था।

Dainik Bhaskar

Dec 29, 2017, 06:21 AM IST
The corporations officers caught the cattle

इंदौर. गुरुवार शाम 5.30 बजे। बीआरटीएस पर शॉपिंग कॉम्प्लेक्स के सामने दो गायें और एक बछड़ा घूम रहा था। तभी निगम के सुपरवाइजर विनोद परिहार और उनकी टीम गुजरी। उन्होंने रुककर मवेशियों को पकड़ा और ट्रॉले में डालकर ले जाने लगे। पता चला तो नया बसेरा निवासी पशुपालक संजय पंडित पत्नी और बच्चों के साथ पहुंचा और मवेशी छोड़ने के लिए टीम को धमकाने लगा। बोला गायें मंदिर की हैं, वह बीआरटीएस पार करवाकर दूसरी ओर स्थित घर ले जा रहा था। जब टीम नहीं मानी तो वह ट्रॉले के सामने परिवार सहित खड़ा हो गया और जान देने की बात कहने लगा। परिहार ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने समझाया, लेकिन वह नहीं माना तो मदद के लिए रिमूवल गैंग को बुलाया।

फोन पर बात की और कहा- छोड़ दो

- मौके पर पहुंचे रिमूवल टीम के सुपरवाइजर मनोहर गौड ने पीड़ित पक्ष को एक तरफ ले जाकर चर्चा की। उसके बाद उन्होंने फोन पर किसी से बात की और गायों को छोड़ने के आदेश दे दिए।

- परिहार ने मनोहर को बताया कि बीआरटीएस के बीच से गायें पकड़ी हैं, लेकिन उन्होंने एक नहीं सुनी और कहा कि पशुपालकों को समझाइश दे दी है। करीब एक घंटे ड्रामा चलता रहा।

हादसे के डर से पकड़ी थीं गायें

- सुपरवाइजर परिहार ने बताया कि किसी हादसे के डर से मैंने बीआरटीएस से गायें पकड़ी थीं। मदद के लिए रिमूव्हल टीम को बुलाया, लेकिन उन्हाेंने कार्रवाई ही नहीं की और समझाइश देकर छोड़ दीं।

- इस मामले में गौड़ का कहना है कि गायें मंदिर की थीं, इसलिए पशु पालकों को समझाइश देकर उन्हें छोड़ दिया। गायों को छोड़ने के लिए किसी तरह का दबाव नहीं था। पशुपालक ने भी माफी मांग ली थी।

The corporations officers caught the cattle
X
The corporations officers caught the cattle
The corporations officers caught the cattle
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..