--Advertisement--

70 से ज्यादा स्पीड से चल रही स्कूल बस, वकीलों ने पीछा कर रोकी और बनाया वीडियो,

डीपीएस बस हादसे के बाद भी स्कूल बसें बेलगाम चल रही हैं, लेकिन आमजन जागरूकता दिखाने लगे हैं।

Dainik Bhaskar

Jan 18, 2018, 07:18 AM IST
the lawyers stopped following and made videos,

इंदौर . डीपीएस बस हादसे के बाद भी स्कूल बसें बेलगाम चल रही हैं, लेकिन आमजन जागरूकता दिखाने लगे हैं। मंगलवार को 70 की स्पीड से चल रही किड्स कॉलेज (स्कूल) की बस (एमपी 09 एफए 5747) को एडवोकेट भारतपुरी गोस्वामी व उनके साथी ने पीछा कर रोका। वीडियो बनाकर इसकी शिकायत आरटीओ जितेंद्र रघुवंशी से की। आरटीओ की टीम ने बुधवार को स्कूल की दो बसें जब्त की। बस में 30 से ज्यादा बच्चे थे।


- वहीं, आरटीओ हेल्पलाइन पर विद्यांजलि स्कूल की बस खटारा होने की शिकायत मिली थी। जांच में मेंटेनेंस ठीक नहीं मिलने और स्पीड गवर्नर अपडेट नहीं होने पर टीम ने एक बस जब्त की और इसके साथ दूसरी का भी फिटनेस सर्टिफिकेट निरस्त किया। श्वेतांबर जैन स्कूल, सेंट गिरि, शुभांकन, सोमदीप इंटरनेशनल, द आर्या स्कूल की एक-एक और ग्लोबल इंटरनेशनल स्कूल की दो बसों में स्पीड गर्वनर नहीं होने पर फिटनेस सर्टिफिकेट निरस्त किया।

डीपीएस बस हादसा: टीम व्यूअर सॉफ्टवेयर से रिमोट के जरिए साइट पर डाली थी फर्जी जानकारी
- डीपीएस बस हादसे के बाद साइबर सेल की जांच में पता चला है कि सुविधा ऑटो गैस के संचालक ने टीम व्यूअर सॉफ्टवेयर से रिमोट के जरिए नीमच में सांवरिया यातायात एजेंसी का कम्प्यूटर एक्सेस किया था।

- इसी कम्प्यूटर से आरटीओ की वेबसाइट पर रोजमार्टा कंपनी के लेटरहेड का दुर्घटनाग्रस्त बस का फर्जी एसएलडी सटिर्फिकेट भी अपलोड किया था। साइबर सेल इंदौर के एसपी जितेंद्र सिंह ने बताया कि सुविधा वालों ने कब-कब आरटीओ एजेंट श्यामलाल के कम्प्यूटर को रिमोटली एक्सेस किया और उससे क्या-क्या काम किए, इसकी जानकारी निकाली जा रही है, वहीं श्यामलाल और कुलदीप सिंह के मोबाइल की जानकारी भी निकाली जा रही है।

X
the lawyers stopped following and made videos,
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..