--Advertisement--

डॉक्टर की लापरवाही से महिला गंभीर, इस हालत में ही कलेक्टर ऑफिस ले गया पति

डॉक्टर की लापरवाही से एक महिला की जान पर जान पर बन आई। इसकी कंप्लेंट उसके पति ने कलेक्टर से की है।

Dainik Bhaskar

Jan 03, 2018, 03:20 AM IST
this condition only took away the collectors office husband

झाबुआ. डॉक्टर की लापरवाही से एक महिला की जान पर जान पर बन आई। इसकी कंप्लेंट उसके पति ने कलेक्टर से की है। मामला पेटलावद इलाके के गांव करड़ावद का है। गांव के मदन आंजना ने बताया 15 नवंबर को पत्नी मधु की तबीयत खराब हुई तो इलाज के लिए पेटलावद कम्युनिटी हेल्थ सेंटर से ले गया था। जहां डॉ. गोपाल चौयल मिले। जांच के बाद उन्होंने कहा तुरंत बच्चादानी का ऑपरेशन करना होगा। सरकारी अस्पताल में अच्छी सुविधा नहीं है तुम मेरे हॉस्पिटल में भर्ती हो जाओ। मैं वहीं ऑपरेशन कर दूंगा। क्या है मामला...

- डॉ. चौयल के कहने पर मदन पत्नी को चौयल हॉस्पिटल ले गया। जहां 5 दिसंबर तक रखा। इस दौरान लापरवाहीपूर्वक ऑपरेशन करते हुए गलत नस काट दी, जिससे मधु की तबीयत बिगड़ती चली गई। 1 दिसंबर को दोबारा ऑपरेशन किया। जब हालत ज्यादा बिगड़ी तो डॉ. ने दाहोद रैफर कर दिया।

- 5 दिसंबर को घरवाले उसे लेकर दाहोद ले गए। जांच के बाद डॉ. शीतल शाह ने कह दिया कि केस बिगड़ चुका है और इन्हें बड़ौदा ले जाओ। बड़ौदा में 18 दिसंबर तक उपचार चला। डॉक्टर ने तीन महीने के बाद ऑपरेशन की बात कही है।

- मंगलवार को मदन अपनी पत्नी को ऐसी हालत में ही गाड़ी में लेकर कलेक्टोरेट पहुंच गया। उसने कलेक्टर को आवेदन देते हुए कहा डॉ. गोपाल चौयल की लापरवाही से उसकी पत्नी की जान पर बन आई। इसलिए उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए। कलेक्टर ने जांच के उपरांत कार्रवाई की बात कही है।

X
this condition only took away the collectors office husband
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..