--Advertisement--

चेहरे पर ट्यूमर हुआ तो माता-पिता ने बच्ची को किया बेघर, ऑपरेशन कर निकाला

15 साल की किशोरी के चेहरे के ट्यूमर का आखिरकार मंगलवार को ऑपरेशन हो ही गया।

Danik Bhaskar | Jan 17, 2018, 04:55 AM IST

खंडवा (इंदौर). खंडवा के रतागढ़ स्थित बाल सखा आश्रम में आसरा पाने वाली सिंगरौली जिले के सुलखान निवासी 15 वर्षीय किशोरी के चेहरे के ट्यूमर का आखिरकार मंगलवार को ऑपरेशन हो ही गया। इंदौर के बांबे हॉस्पिटल में दो न्यूरो सर्जन सहित पांच डॉक्टरों की टीम ने सात घंटे तक ऑपरेशन किया। ट्यूमर 300 ग्राम का था। ऑपरेशन के बाद होश में आते ही किशोरी रोने लगी, लेकिन बाल सखा आश्रम की काउंसलर बबीता खरारे उससे बोली- तुम तो अब बहुत सुंदर लग रही हो।

- इस पर चेहरे पर बंधी पट्टियों के बीच एक आंख से किशोरी ने देखा और मुस्करा दी। उसे खुश देखकर सभी के चेहरे खिल उठे। गौरतलब है कि ट्यूमर के बाद माता-पिता ने एक माह पहले किशोरी को पीटकर घर से निकाल दिया था।

- किशोरी 21 दिसंबर को खंडवा के बाल सखा आश्रम लाई गई थी। उसकी जांच और ऑपरेशन कर स्वस्थ बनाने का बीड़ा उठाया गया। एसपी नवनीत भसीन भी सपत्नीक किशोरी को देखने पहुंचे। वे लगातार जांच और इलाज की प्रक्रिया की मॉनिटरिंग करते रहे।