--Advertisement--

मां ने मासूम बेटियों के सामने लगाई फांसी, दरवाजा पीटता रहा पति

पति दरवाजा खोलने के लिए चिल्लाता रहा, पर मां के डर से बेटियों ने गेट नहीं खोला

Danik Bhaskar | Jan 23, 2018, 03:38 AM IST
सिम्बॉलिक इमेज। सिम्बॉलिक इमेज।

इंदौर. मोबाइल ले जाने को लेकर पति-पत्नी के बीच ऐसा विवाद हुआ कि पत्नी ने गेट बंद कर दो बेटियों के सामने फांसी लगाकर जान दे दी। पिता गेट खोलने के लिए चिल्लाता रहा, लेकिन मां के डर से बच्चियों ने गेट नहीं खोला। मां की मौत के बाद बच्ची ने गेट खोला, तब घटना का पता चला।

एक ही मोबाइल था, पति ने ले जाना चाहा तो उठाया ये कदम

इंदौर की भंवरकुआं पुलिस के मुताबिक घटना सोमवार सुबह करीब 9.30 बजे की है। महिला का नाम नेहा पति हल्कू है। उनके पास एक ही मोबाइल फोन था। हल्कू ने नेहा से कहा कि वह अकेले ही परिजनों से मिलने जा रहा है। तो नेहा ने उसे मोबाइल फोन ले जाने से मना किया। इस पर दोनों का विवाद हुआ।

पति कर रहा था ब्रश, तभी कर लिया था गेट बंद

सोमवार सुबह पति घर के बाहर ब्रश कर रहा था, तभी नेहा ने खुद को कमरे में बंद कर लिया। पति बाहर खड़ा होकर पत्नी और बेटियों अंशिता (4) और सेजल (2) को आवाज देकर गेट खोलने का बोलता रहा। पर मां के डर से किसी ने गेट नहीं खोला।