इंदौर

--Advertisement--

24 घंटे पहले ही T20 मैच के लिए लगी लाइन, ठंड में महिलाओं ने सड़क पर बिताई रात

भारत-श्रीलंका के बीच 22 दिसंबर को टी-20 मैच होने वाला है।

Danik Bhaskar

Dec 16, 2017, 01:24 AM IST
मैच के टिकट के दौरान महिलाएं। मैच के टिकट के दौरान महिलाएं।

इंदौर. भारत-श्रीलंका के बीच 22 दिसंबर को होने वाले टी-20 मैच के लिए क्रिकेट फैन्स में जुनून ऐसा है कि एक दिन पहले से ही लाइन लगा दी। इनमें यूथ से लेकर महिला और बच्चे तक भारी संख्या में नजर आए। पूरी रात उन्होंने सर्दी में बिताई। बच्चे भी लाइन में एग्जाम की तैयारी करते नजर आए। इसके अलावा कुछ युवा बैठे- बैठे बोर हो गए तो उन्होंने ताश खेलकर अपना टाइम पास किया। 4500 टिकटों की होगी ऑफलाइन बिक्री...

दरअसल, होलकर स्टेडियम में 22 दिसंबर को भारत और श्रीलंका के बीच होने वाले टी-20 इंटरनेशनल क्रिकेट मैच के ऑनलाइन बिक्री के लिए रखे गए सभी 8200 टिकट बिक गए।

- पैवेलियन के बचे हुए महंगे टिकट भी शुक्रवार सुबह बिक गए। अब गैलरी के 4500 टिकटों की बिक्री शनिवार सुबह 9 बजे से होलकर स्टेडियम से कैश में ऑफलाइन होगी।

- पर पर्सन दो टिकट देने का सिस्टम है। इसमें आईडी की फोटोकॉपी ले जाना जरूरी है। टिकट रात नौ बजे तक बेचे जाएंगे।

शहर को दोबारा लगवाई लाइन...

- इसमें अधिकांश फैक्टरी या दूसरी जगह काम करने वाली महिलाएं, पुरुष थे जो दूसरों के लिए टिकट खरीदने पहुंचे थे।

- शाम सात बजे वापस भीड़ लगना शुरू हुई और रात होते-होते काफी लोग लाइन में थे।

स्टूडेंट कंसेशन के टिकट 18 को
- स्टूडेंट कंसेशन वाले गैलरी के 4500 टिकट अलग से एमपीसीए ने रखे हैं। इनकी बिक्री 18 दिसंबर की सुबह 9 से रात 9 बजे तक होलकर स्टेडियम से होगी।

- यह टिकट एक छात्र को एक ही मिलेगा और इसके लिए उसे अपने संस्थान की मूल फोटो आईडी और उसकी एक फोटोकॉपी ले जाना होगी।

दिव्यांग के 125 टिकट 19 को
- दिव्यांग कैटेगरी के 125 टिकट अलग से आरक्षित हैं। यह 19 दिसंबर को होलकर स्टेडियम के नरेंद्र हिरवानी गेट से प्रवेश कर ईस्ट गैलरी में बनी टिकट खिड़की से मिलेंगे।

समय काटने के लिए खेलते रहे ताश
- टिकट खरीदने के लिए सुबह से लाइन में बैठे कुछ लड़के बोर हो गए तो टाइम पास करने के लिए वे ताश और शतरंज खेलने लगे। इस दौरान कोई ताश खेल रहा था तो कोई उन्हें खेलते देखकर ही टाइम पास कर रहा था।

कालाबाजारी: बच्चों के लिए लाइन में महिलाएं
- कुछ महिलाएं सुबह 10 बजे से नरेंद्र हिरवानी गेट के बाहर लाइन में थीं। पूछा तो बोलीं, बच्चों के लिए टिकट लेने हैं। कुछ देर बाद बोलीं- हम छोटे-मोटे काम कर पैसा कमाती हैं। टिकट खरीद कर बच्चों को दे देते हैं। वे दोगुने-तीगुने दामों पर बेच देते हैं।

जुनून: हर बार चाहिए पहला टिकट, सबसे पहले पहुंचे
- काउंटर टिकट के लिए पुरुषों की लाइन में सबसे पहले विवेक गुप्ता पहुंचे। विवेक ने इंदौर में होने वाले सभी मैचों के टिकट सबसे पहले हासिल किए। हालांकि दोपहर में पुलिस ने बाहर कर दिए जिसकी वजह से टिकट नहीं खरीद सके।

मोबाइल पर गेम खेलती बच्ची। मोबाइल पर गेम खेलती बच्ची।
सर्दी के दौरान टिकट लाइन में ही सो गए फैन्स। सर्दी के दौरान टिकट लाइन में ही सो गए फैन्स।
सर्दी के दौरान टिकट लाइन में ही सोती महिलाएं। सर्दी के दौरान टिकट लाइन में ही सोती महिलाएं।
लाइन में एग्जाम की तैयारी करते स्टूडेंट। लाइन में एग्जाम की तैयारी करते स्टूडेंट।
Click to listen..