--Advertisement--

स्टॉफ व विद्यार्थियों ने मिलकर दिलाई ट्राइसिकल

नगर की राज राजेंद्र पब्लिक स्कूल में अनूठा आयोजन हुआ। स्कूल के विद्यार्थियों व स्टाॅफ ने मिलकर पैसे इकट्ठे किए और...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 02:00 AM IST
नगर की राज राजेंद्र पब्लिक स्कूल में अनूठा आयोजन हुआ। स्कूल के विद्यार्थियों व स्टाॅफ ने मिलकर पैसे इकट्ठे किए और 3 दिव्यांगों को ट्राइसिकल भेंट की। अब तक घिसट घिसटकर चलने वाले इन तीनों दिव्यांगों के चेहरे ट्रायसिकल पाकर खुशी से खिल उठे। एक सादे समारोह में तहसीलदार नितिन चौहान व संस्था के मैनेजिंग ट्रस्टी मनीष जैन ने दिव्यांगों को ट्राइसिकल सौंपी।

इस मौके पर तहसीलदार चौहान ने आयोजन की सराहना करते हुए कहा बच्चों के मन में इससे संवेदनशीलता जागती है। जरूरतमंदों के सहयोग की भावना पैदा होती है। संस्था के प्राचार्य जॉर्ज मैथ्यू के मन मे विचार आया था कि संस्था के बच्चों में सामाजिक उत्तरदायित्व की भावना व जरूरतमंद के प्रति सहयोग की भावना पैदा की जाना चाहिए। उन्होंने अपने सहयोगियों व संस्था के ट्रस्टी से चर्चा की। तब इस तरह कृपा ज्योति अभियान की योजना बनी। बच्चों की सहभागिता के लिए उनसे आर्थिक सहयोग की राशि तय की गई। स्टॉफ ने भी आगे आकर इसमें आर्थिक सहयोग दिया। बच्चों के उत्साह को देखकर ट्रस्ट मंडल ने भी इसमें सहयोग दिया। दिव्यांगों की मदद करना तय हुआ। ऐसे जरूरतमंद दिव्यांगों की खोज करने में परेशानी आई। कई दिनों की खोजबीन के बाद ग्राम धामनी नाथू का रतन सोलंकी, उबेराव का दीवान कटारा व समोई का मांगीलाल बामनिया मिले। इन्हें ट्रायसिकल दी गई। खास बात यह बताई गई कि इन तीनों तक शासन की किसी योजना का लाभ भी नहीं पहुंचा। संस्था के जितेंद्र नाहर ने बताया आगामी दिनों में कृपा ज्योति अभियान के जरिये मानव सेवा के अनेक कार्य किए जाने की योजना बनाई गई है। इसमें गरीब बच्चों को नोटबुक देना, जरूरतमंदों को मेडिसिन उपलब्ध करवाना आदि शामिल है।

राज राजेंद्र पब्लिक स्कूल में अनूठा आयोजन, तहसीलदार व अन्य अतिथियों ने की सराहना

सादे समारोह में दिव्यांगों को ट्राइसिकल दी गई।