--Advertisement--

इंदौर में सैलानियों के लिए नहीं है विभाग का होटल या रिसॉर्ट

इंदौर

Dainik Bhaskar

Feb 03, 2018, 02:05 AM IST
इंदौर
इंदौर के आसपास औंकारेश्वर, महेश्वर, मांडू, हनुवंतिया और सैलानी टापू के रूप में कई पर्यटन स्थल हैं। सभी स्थलों के लिए इंदौर सेंटर प्वाइंट है। ज्यादातर पर्यटक यहीं से होकर इन स्थलों पर आते-जाते हैं। इंदौर खुद अपने आप में पर्यटन का बड़ा केंद्र है, लेकिन यहां सैलानियों के रुकने के लिए पर्यटन विभाग का अपना कोई रिसॉर्ट या होटल नहीं है। यही वजह है कि सैलानी निजी होटलों के भरोसे रहते हैं। सरकारी होटल होने से उन्हें किफायती दरों पर ठहरने की सुविधा मिलेगी।

ठेकेदार छोड़ गए काम

होटल के सिविल वर्क के लिए 28 करोड़ के टेंडर काफी पहले हो चुके हैं, लेकिन लैंड यूज बदलने में हो रही लेटलतीफी के कारण ठेकेदार टेंडर छोड़कर ही चले गए। अब यह कवायद भी नए सिरे से करना होगी।

टीएंडसीपी को भेजी है फाइल

 क्षेत्रीय कार्यालय के पास थ्री स्टार होटल बनाने की योजना है। टूरिज्म डिपार्टमेंट ही उसे संचालित करेगा। होटल बनाने के लिए लैंड यूज कमर्शियल करना होगा। इसमें वक्त लग रहा है। दो-तीन फेज में जमीन का लैंड यूज बदला है। करीब दो एकड़ जमीन अभी कमर्शियल होना बाकी है। हमने टीएंडसीपी को फाइल भेजी है। वहां से परमिशन मिलते ही आगे की कार्रवाई की जाएगी। डीएस यादव, एक्जीक्यूटिव इंजीनियर, टूरिज्म

होटल की फाइल चेक दिखवाती हूं

 पर्यटन विभाग के थ्री स्टार होटल प्रोजेक्ट की फाइल चेक करवाती हूं। अफसरों से जानकारी लेती हूं। जो भी इश्यू होंगे, उन्हें दूर किया जाएगा। स्वाति मीणा नाईक, डायरेक्टर, टाउन एंड कंट्री प्लानिंग

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..