--Advertisement--

संस्था ने तलाशा दृष्टिहीन लाली के लिए वर, मंदसौर से आएगी बारात

कैट रोड स्थित कुंदन नगर में शनिवार को खुशी का माहौल था। विवाह गीत गाए जा रहे थे। हल्दी की रस्म अदा की जा रही थी। कारण...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 02:35 AM IST
कैट रोड स्थित कुंदन नगर में शनिवार को खुशी का माहौल था। विवाह गीत गाए जा रहे थे। हल्दी की रस्म अदा की जा रही थी। कारण यहां लाली का विवाह होने जा रहा जो देख नहीं सकती। छह साल पहले बहुद्देश्यीय संस्था में उसे आसरा मिला। संस्था वालों ने ही उसके लिए वर तलाशा। रविवार को उसे बेटी की तरह विदा किया जाएगा। आश्रम के सदस्यों और बच्चों के साथ समाजजन भी बढ़-चढ़कर सहभागिता कर रहे।

संचालिका संतोष सक्सेना ने बताया लाली का विवाह परंपरानुसार किया जा रहा। दोपहर 1 बजे शुभ मुहूर्त में गणेश पूजन, हल्दी व अन्य रस्में की गईं। अनेक वर्गों की महिलाएं, संस्थाएं व बच्चों ने मंगल गीत गाए। नृत्य किया। रविवार को मंदसौर के राजाराम बारात लेकर आएंगे। लाली को ब्रेललिपी आती है जिसके कारण वह दैनिक कामकाज में दक्ष है। यही नहीं, लाली को कई लोगों ने अपनी क्षमतानुसार तोहफा दिया। अभी तक कई परिवार कूलर, फ्रिज, बर्तन, अंगूठी, टॉप्स आदि सामग्री तोहफे में दे चुके। विवाह भोज की व्यवस्था आम परिवारों की तरह है। उन्होंने बताया इस शादी से निराश्रित बच्चों की संस्था में उत्सवी माहौल है। बच्चों में अपनी दीदी की शादी को लेकर खुशी है।