--Advertisement--

12 टनल से गुजरने का रोमांच उठा सकेंगे यात्री

News - पातालपानी से चोरल के बीच बनने वाले नए रेलवे ट्रैक में यात्री 12 टनल से गुजरने का रोमांच उठा सकेंगे। ये टनल 14 किमी के...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 02:40 AM IST
12 टनल से गुजरने का रोमांच उठा सकेंगे यात्री
पातालपानी से चोरल के बीच बनने वाले नए रेलवे ट्रैक में यात्री 12 टनल से गुजरने का रोमांच उठा सकेंगे। ये टनल 14 किमी के हिस्से में पहाड़ काटकर बनाई जाएंगी। रेलवे की तकनीकी टीम ने इसकी फाइनल सर्वे रिपोर्ट बोर्ड को भेज दी है।

मौजूद ट्रैक स्थित यह टनल नए ब्रॉडगेज ट्रैक का हिस्सा नहीं होगी।

डीबी स्टार. इंदौर

पातालपानी से कालाकुंड के बीच मीटरगेज लाइन पर 4 टनल हैं। नए ब्रॉड गेज रूट में ये चारों टनल नहीं रहेंगी। रेलवे अब पातालपानी से चोरल के बीच 14 किमी के हिस्से में आने वाले पहाड़ों को काटकर 12 नई टनल बनाएगा।

रेलवे महू-सनावद के बीच गेज परिवर्तन का काम कर रहा है। सनावद-खंडवा के बीच भी ब्रॉड गेज का काम चल रहा है, जबकि महू से रतलाम तक ब्रॉडगेज लाइन डल चुकी है। काम पूरा होने के बाद यह रतलाम-खंडवा रूट कहलाएगा।

नहीं लगाना होगा इंजन

अभी सनावद से महू के बीच 6 ट्रेन चलती हैं। घाट पर चढ़ाई के वक्त ट्रेन को पीछे की तरफ से धकाने के लिए एक इंजन और लगाना पड़ता है। नए ट्रैक में घाट खत्म होने के कारण इंजन लगाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। ट्रैक के लिए रेलवे वन विभाग से 36.21 और रेवेन्यू से 280.97 हैक्टेयर जमीन लेगा। इस रूट पर 33 बड़े ब्रिज होंगे। कई पुराने ब्रिज को दोबारा से बनाया जाएगा। ब्रॉडगेज लाइन के कारण इंदौर से मुंबई और इटारसी जैसे महत्वपूर्ण जंक्शनों की दूरी कम हो जाएगी। व्हाया खंडवा होकर ट्रेनंे चलाई जाएंगी। इसके अलावा साउथ से आने-जाने वाली कई ट्रेनों की कनेक्टिविटी भी इंदौर से हो जाएगी।

पातालपानी

बधिया

मौजूदा रेलवे ट्रैक काली लाइन से और नया ट्रैक लाल लाइन से दर्शाया गया है। नए ट्रैक में ट्रेन पातालपानी से डायवर्ट होकर बधिया, बैका, कुलथाना और राजपुरा जैसे छोटे गांवों से गुजरते हुए चोरल स्टेशन पहुंचेगी। इसमें कालाकुंड स्टेशन हट जाएगा।

चोरल में खुलेंगे कलाकंद स्टॉल

पातालपानी से ट्रैक डायवर्ट होने के कारण कालाकुंड स्टेशन खत्म हो जाएगा। कालाकुंड के कलाकंद काफी प्रसिद्ध हैं। कई ग्रामीणों की आजीविका कलाकंद से चलती है। इसलिए रेलवे चोरल को बड़ा स्टेशन बनाकर यहां कलाकंद के स्टॉल खुलवाएगा।

झरने के पास से नया ट्रैक

रेलवे के अनुसार कई लोग ट्रेन से पातालपानी का झरना और टनल देखने आते हैं, इसलिए नया ट्रैक भी झरने के पास से ही निकाला जाएगा। इससे टनल और झरना देखने आने वाले पर्यटकों और यात्रियों की आवाजाही यथावत ही रहेगी।

कालाकुंड

बैका

कुलथाना

किमी लंबी होगी सबसे बड़ी टनल

राजपुरा

सबसे बड़ी टनल 4.34 किमी लंबी होगी

संदीप खंडेलवाल, उप मुख्य अभियंता(निर्माण) प.रे. इंदौर

पातालपानी से चोरल के बीच 14 किमी के हिस्से में 12 टनल बनाई जाएंगी। सबसे बड़ी टनल 4.34 किमी की होगी। इससे यात्रा पूर्व से ज्यादा रोमांचक रहेगी। हमने सर्वे रिपोर्ट और नक्शा रेलवे बोर्ड को भेज दिया है।

चोरल

मुख्तयारा बलवाड़ा

X
12 टनल से गुजरने का रोमांच उठा सकेंगे यात्री
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..