--Advertisement--

sunday click कान्हा किसली या बांधवगढ़ नहीं, यह हमारा इंदौर है

यह दृश्य कान्हा किसली या बांधवगढ़ का नहीं बल्कि हमारे इंदौर शहर में स्थित रालामंडल का है। इन दिनों यहां इस तरह के...

Danik Bhaskar | Mar 04, 2018, 02:45 AM IST
यह दृश्य कान्हा किसली या बांधवगढ़ का नहीं बल्कि हमारे इंदौर शहर में स्थित रालामंडल का है। इन दिनों यहां इस तरह के नजारे आम हैं। यह शाम ढलने तक पर्यटकों के लिए खुलता है। 20 रुपए इंट्री फीस है। पर्यटकों के लिए वाहन की सुविधा भी उपलब्ध है। 160 प्रजाति के जानवर हैं यहां। 234.550 हैक्टेयर में फैला है अभयारण्य।