--Advertisement--

पेज 1 के शेष

News - एमवाय में बोनमैरो ट्रांसप्लांट शुरू; यह सुविधा देने वाला पहला अस्पताल... शुक्रवार को उन्हें यूनिट में शिफ्ट...

Dainik Bhaskar

Mar 04, 2018, 02:45 AM IST
पेज 1 के शेष
एमवाय में बोनमैरो ट्रांसप्लांट शुरू; यह सुविधा देने वाला पहला अस्पताल...

शुक्रवार को उन्हें यूनिट में शिफ्ट कर दिया गया था। इस ट्रांसप्लांट के लिए गुड़गांव के फोर्टिस अस्पताल से एमजीएम मेडिकल कॉलेज ने अनुबंध किया है। अनुबंध के तहत वहां से डॉ. राहुल भार्गव और उनकी टीम भी 2 मार्च को ही इंदौर पहुंच चुकी थी। डॉ. भार्गव की टीम के साथ सुबह आठ बजे ही यूनिट में तैयारी के साथ खड़े थे। दो दिन की इस प्रक्रिया के पहले दिन मरीज के ब्लड से सेल निकाले गए। इस दौरान यूनिट इंचार्ज डॉ. ब्रजेश लाहोटी, अधीक्षक डॉ. वी.एस. पाल, डीन डॉ. शरद थोरा और संभागायुक्त संजय दुबे भी अस्पताल में ही मौजूद रहे।

45 वर्षीय महिला का भी होगा ट्रांसप्लांट : नीमच की 45 वर्षीय कुसुम को करीब पांच महीने पहले पता चला कि उन्हेंं कैंसर है। वे बताती हंै, नीमच और उदयपुर में इलाज करवाया। डॉक्टर्स ने मुझे इंदौर जाने के लिए कहा। यहां सरकारी कैंसर अस्पताल में इलाज चल रहा है। चार महीनों से कीमोथैरेपी करवा रही हूं। एक साल पहले यूटरस निकलवाया था। उसके आठ महीने बाद एक पैर में परेशानी आई। नीले निशान हो गए। खून बनना बंद हो गया था। इसके कारण शरीर में तीन ग्राम खून ही बचा। बाल झड़ने लगे हैं। यहीं डॉक्टरों ने बताया कि नई तकनीक है। कोई रिस्क भी नहीं है। यह करवाने के बाद कीमोथैरेपी और बाकी चीजें नहीं करवाना पड़ेगी।

बॉम्बे हाईकोर्ट का फैसला- पति को पानी के लिए नहीं पूछना क्रूरता नहीं...

सबूत दिखाते हैं कि लौटते वक्त वह सब्जी भी खरीदती है। जाहिर है कि वह खुद भी काफी थक जाती होगी। लेकिन फिर भी पूरे परिवार के लिए खाना बनाती है और बाकी घरेलू काम करती है। दंपती की शादी 2005 में हुई थी। पति का दावा था कि प|ी देरी से घर आती है और माता-पिता के साथ झगड़ा भी करती है।

X
पेज 1 के शेष
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..